मजेदार जोक्स : दुलहन की विदाई हो रही थी तभी..

जोक्स नंबर 1: संता परिवार के साथ कार में जा रहा था, ट्रैफिक पुलिस – वाह आप तो सीट बेल्ट पहन कर गाड़ी चला रहे हैं , आपको मिलता है 500 Rs का इनाम, अब आप इन पैसों का क्या करेंगे , संता -जी मैं ड्राइविंग लाइसेंस बनवाऊँगा, इंस्पेक्टर बेहो’श होते होते बचा , संता की माँ – इसकी बातों पे ध्यान मत दो ये शराब पीकर , कुछ भी बकता रहता है , इंस्पेक्टर की हालत ख़राब , संता का बाप – मुझे पता था , चो-री की गाड़ी में ज्यादा दूर नहीं जा पाएंगे , इंस्पेक्टर बेहोश

जोक्स नंबर 2: बस में कॉलेज की लडकिया चढ़ने से बस भर गयी और पप्पू निचे रह गया… कंडक्टर: नो मोर… नो मोर… पप्पू: साले मोरनी मोरनी चढ़ा ली और हम आये तो नो मोर!

पप्पू साइकिल से जा रहा था। अचानक एक लड़की से भिड़ गया। लड़की – घंटी नहीं मा’र सकता था बे… . पप्पू – अरे मैंने पूरी साइकिल मा:र दी… अब क्या घंटी अलग से मारूं…

पिता जी :- रिजल्ट कैसा रहा तुम्हरा… बेटा :- मास्टर साहब कह रहे थे एक साल और लग जायेगा तुम्हे इस क्लास मे… पिता जी :- बेटा चाहे दो – तीन साल लग जाये लेकिन फेल ना होना…

जोक्स नंबर 3: एक युवती ने अपना मंगेतर सहेली को दिखाया तो वो बोली- ‘लड़का तो ठीक-ठाक है, . पर जब हँसता है तो इसके दाँत बिलकुल भी अच्छे नहीं लगते।‘ . . . . युवती बोली- ‘वैसे भी मैं शादी के बाद इसे हँसने का मौका ही कब दूँगी।‘

जोक्स नंबर 4: छोटा संता सिग’रेट पी रहा था कि संता वहां आ गया. छोटे संता ने सिग-रेट शर्ट की जेब में छुपा ली. संता: तुम सिग-रेट पी रहे थे? छोटा संता: नहीं तो…. संता: तो फिर तुम्हारे शर्ट से यह धुआं कौन निकाल रहा है?.. संता: आपने बात ही दिल जलाने वाली की है.

जोक्स नंबर 5: पप्पू अपनी बिमार दादी को मोहल्ले के डाक्टर के पास दिखाने ले गया .. डाक्टर : मुंह खोलो दादी .. दादी : तुम्हारी बीवी रोज शाम को तुम्हारे पड़ोसी राजू से मिलती है बस इससे ज्यादा मेरा मुंह मत खुलवाना

जोक्स नंबर 6: कल एक शादी में भोजन करने गया…!! आंखें नम हो गयीं…!! उनकी नई नवेली बहू, मंझली और बड़ी बहू सभी घूंघट में थीं, वाह क्या संस्कार…!! बाद में पता चला, वे समय न मिलने के कारण ब्यूटी पार्लर नहीं जा पाईं थीं…!!

जोक्स नंबर 7: अगर आपकी गाड़ी से किसी को टक्कर लग जाए और आप सहानुभूति दिखाने के लिए वहां रुक जाएँ तो भाई साहब… आपका कुटना तय है..

जोक्स नंबर 8: ीचर : बताओ “आई लव यू” शब्द का आविष्कार किस देश में हुआ? . स्टूडेंट : चाइना में टीचर : वो कैसे ? . स्टूडेंट : इसमें सारे चाइनीज़ गुण हैं न कोई गारंटी, ना कोई वारंटी चले तो चाँद तक, न चले तो शाम तक