Trending Funny jokesHindi jokesजोक्सUPSCLove jokesJokesमजेदार जोक्सहिंदी जोक्सIPSIASfactMajedar Jokes

कोई मिल गया फिल्म के “जादू” के पीछे इस एक्टर ने निभाया था किरदार, आज पहुंच गया हैं इस हालत में आपको भी दया आ जाएगी..

क्या आप जानते हैं कि कोई मिल गया फिल्म में एलियन मैजिक की भूमिका किसने निभाई थी? कॉस्ट्यूम के अंदर एक जाना-पहचाना चेहरा था जिसे आपने टीवी पर कई बार देखा होगा. वह ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ में भी नजर आ रहे हैं। नाम है इंद्रवदन पुरोहित। इंद्रवदन को आप शायद नाम से नहीं जानते होंगे, लेकिन उन्होंने कई फिल्मों में एक नाबालिग मास्टर की भूमिका निभाई है। वह बलवीर, जबान संभल और तारक मेहता जैसे सीरियल्स में भी नजर आ चुके हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक कोई मिल गया में जादू के रोल के लिए करीब 40 लोगों का टेस्ट किया गया था। अंतत: इंद्रवदन का चयन किया गया। इसके लिए उन्हें अपना वजन कम करना पड़ा। मैजिक सूट की बात करें तो रिपोर्ट्स के मुताबिक यह ऑस्ट्रेलिया से आया था और 1 साल में बनकर तैयार हो गया था।

फिल्म तारे जमीन पर में बच्चे का मुख्य किरदार निभाने वाला…

फिल्म ‘कोई मिल गया’ में जादू की भूमिका किसने निभाई थी?.. इस पोशाक का वजन 15 किलो था, ऐसी खबरें थीं कि इंद्रवदन को इसे पहनने में भी काफी परेशानी हुई थी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इंद्रवदन का सूट में दम घुट रहा था और उन्हें ऑक्सीजन की जरूरत थी। उन्होंने इस फिल्म में दयाबेन के दूर के रिश्तेदार की भूमिका निभाई है।

उन्होंने सीरियल ‘बाल वीर’ में दूबा दूबा की भूमिका भी निभाई है। इंद्रावद ने हिंदी समेत कई भाषाओं की फिल्मों में अभिनय किया था।अफसोस की बात है कि इंद्रावद अब इस दुनिया में नहीं रहे। 28 सितंबर 2014 को उनका निधन हो गया।

कोई मिल गया में एलियन मैजिक का किरदार इंद्रवदन ने निभाया था जो एक पुजारी था। इंद्रवदन केवल तीन फीट लंबा था। यही कारण है कि उन्हें जादू की भूमिका के लिए चुना गया था। इंद्रदावन टीवी सीरियल के स्टार मेहता का उल्टा चश्मा में नजर आ चुके हैं। तारक मेहता का उल्टा चश्मा में उन्होंने दयाबेन की एक रिश्तेदार यानी दिशा वकानी की भूमिका निभाई थी, जो सुंदर (मयूर वकानी) के भक्तों के एक समूह के साथ आई थी।

साल 2014 में हुई थी मौत.. इंद्रदावन की मौत साल 2014 में हुई थी. इंद्रवदन 1976 से फिल्मों में सक्रिय हैं। उन्होंने हिंदी के अलावा मराठी और गुजराती फिल्मों में भी काम किया। उन्होंने 2001 की हॉलीवुड फिल्म लॉर्ड ऑफ द रिंग्स – द फेलोशिप ऑफ द रिंग में भी अभिनय किया। इंद्रदावन को आखिरी बार बच्चों के टीवी शो बालवीर में देखा गया था।

कोई मिल गया में जादुई पोशाक ऑस्ट्रेलिया से बनाई गई थी। ऋतिक रोशन ने बताया कि इस कॉस्ट्यूम को बनाने में एक साल का समय लगा। इसे James Colner नाम के एक कलाकार ने डिजाइन किया था।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, कॉस्ट्यूम में कई खास फीचर्स थे। जादुई आंखें इंसानों और जानवरों दोनों को प्रभावित करके बनाई गई थीं। इस ड्रेस की कीमत करीब एक करोड़ रुपए थी। उसका वजन 15 किलो था।

मिलिए इंद्रवदन पुरोहित उर्फ छोटे उस्ताद से जिन्होंने 6 भाषाओं में लगभग 250 फिल्मों में अभिनय किया है। उन्होंने बच्चों के लोकप्रिय टीवी शो बाल वीर में ‘दूबा-दुबा’ की भूमिका निभाई। उन्होंने टीवी शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ में दयाबेन के दूर के रिश्तेदार की भूमिका भी निभाई।

इंद्रवदन 1976 से फिल्मों में काम कर रहे हैं। पुरोहित ने 2001 की हॉलीवुड फिल्म लॉर्ड ऑफ द रिंग्स – द फेलोशिप ऑफ द रिंग में भी अभिनय किया। उन्हें टीवी सीरियल ‘जबान संबल के’ में भी देखा गया था। उनकी अन्य उल्लेखनीय कृतियों में नगीना (1986), वीराना (1988), बॉल राधा बॉल (1992) और डार (1996) शामिल हैं।

“जादू” पोशाक ऑस्ट्रेलिया में बनाई गई थी। कहा जाता है कि इस पोशाक को बनाने में एक साल का समय लगा था। करीब एक करोड़ रुपये की लागत वाली इस 15 किलो की पोशाक में पुजारी के लिए अभिनय करना बहुत मुश्किल था।

इस रोल को करने के लिए उन्होंने अपना वजन कम किया, जिम ज्वाइन किया और डाइट भी फॉलो की। कहा जाता है कि ‘मैजिक’ मास्क इतना भारी था कि घुटन रोकने के लिए शूटिंग के बीच में उसे ऑक्सीजन की जरूरत पड़ती थी।