खबरे

अपने बेटी के पहले जन्मदिन पर इस गुपचुप बेचने वाले पिता ने लोगो को फ्री में 1 लाख 1 हजार पानी पूरी मुफ्त खिलाईं, लोगो ने की सराहना

अपने बेटी के पहले जन्मदिन पर इस गुपचुप बेचने वाले पिता ने लोगो को फ्री में 1 लाख 1 हजार पानी पूरी मुफ्त खिलाईं, लोगो ने की सराहना: भोपाल की गलियों से पानीपुरी विक्रेता आंचल गुप्ता ने अपनी बच्ची के स्वागत के अवसर पर मुफ्त गोलगप्पे बांटने को लेकर चर्चा की थी। पिछले साल 17 अगस्त को गुप्ता को एक बेटी हुई थी। खुशखबरी के बाद, उन्होंने अपनी चाट की वस्तु से लोगों का इलाज करना शुरू कर दिया।

“बच्ची का जन्म मेरे लिए एक सपने के सच होने जैसा है। जब से मेरी शादी हुई है, मैं हमेशा एक बेटी चाहता था, लेकिन दो साल पहले मुझे पहली बार एक बेटा हुआ था। बाद में उन्होंने विश्वास व्यक्त किया, “बेटी है, तो कल है (बेटियों के साथ भविष्य संभव है)।”

अब 2022 में, बच्चे का पहला जन्मदिन मनाते हुए, पानीपुरी के पिता ने लोगों को मुफ्त गोलगप्पे खिलाए। न केवल एक या दो, न ही सैकड़ों में, आँचल ने एक लाख से अधिक पानीपुरी प्रदान करने के लिए शुभकामनाएँ दीं। हां, आपने उसे सही पढ़ा है। 31 स्टालों के माध्यम से मुफ्त वितरण की सटीक गिनती बेटी को चिह्नित करने के लिए लगभग 1,10,000 मुफ्त पानीपुरी होने की सूचना है।

 मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में पानी पूरी बेचने वाले 30 वर्षीय व्यक्ति ने अपनी बेटी के पहले जन्मदिन पर शहर के लोगों को एक लाख एक हजार पानी पूरी निशुल्क खिलाकर अपनी खुशी का इजहार किया और समाज को बेटी बचाने का संदेश दिया। भोपाल के कोलार इलाके में गुप्ता पानी पूरी भंडार के नाम से रेहड़ी लगाने वाले अंचल गुप्ता ने एक साल पहले भी अपनी बिटिया ‘अनोखी’ के जन्म के मौके पर लोगों को 50 हजार पानी पूरी निशुल्क खिलाई थीं।

गुप्ता ने बेटी की पहली वर्षगांठ पर बुधवार को लोगों को ‘‘बेटी है तो कल है’’ का संदेश देते हुए अपनी खुशी जाहिर की और लोगों को दिन भर मुफ्त में एक लाख पानी पूरी खिलाईं। इसके लिए उन्होंने कोलार क्षेत्र के बंजारी मैदान में 50 मीटर लंबे टेंट में 21 स्टॉल लगाए और पानी पूरी खिलाने के लिए 25 लड़कों को दिहाड़ी पर लगाया।

आयोजन स्थल पर ‘बेटी वरदान है’, ‘बेटी बचाओ’, ‘बेटी पढ़ाओ’ के बैनर लगे थे। तीन वर्षीय पुत्र और एक वर्षीय बेटी के पिता गुप्ता ने बताया कि पानी पूरी का ठेला लगाकर वह महीने में 15 से 20 हजार रुपये कमा लेते हैं।

गुप्ता ने बृहस्पतिवार को ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘ बेटी का जन्म मेरे लिए एक सपने के सच होने जैसा है। मैं हमेशा से एक बेटी चाहता था। दो साल पहले मेरी पत्नी ने बेटे को जन्म दिया था। भगवान ने पिछले साल 17 अगस्त को मुझे आशीर्वाद के तौर पर बेटी दी है।’’ पानी पूरी खिलाने में कितना खर्च आया के सवाल पर उन्होंने कहा कि इसका हिसाब नहीं लगाया। गुप्ता ने कहा,‘‘ पिछले साल बेटी हुई तो 50 हजार पानी पूरी मुफ्त खिलाई थीं।

पानी पूरी खिलाना कोई बड़ी बात नहीं है। सिर्फ समाज को बेटी बचाने का संदेश देना है।’’ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर गुप्ता की बेटी ‘अनोखी’ को शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा, ‘‘ सदा सुखी और आनंदित रहो।’’ गुप्ता ने बताया कि कई लोगों ने उनकी बेटी को उपहार भी दिए। क्षेत्र की विधायक रामेश्वर शर्मा भी इस आयोजन में शामिल हुए और उन्होंने गुप्ता दंपति के इस अनूठे आयोजन की सराहना की।