खबरे

अगर आपने इस प्लेन में सफर किया होता तो क्या होता आपका !

एरोप्लेन, यातायात का सबसे आसान साधन कभी-कभी दुर्घटनाओं का भी शिकार हो जाता है। जिनमें से अधिकतर दुर्घटना तो बहुत दर्दनाक होती है। लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि जो विमान लापता हो गया था वह पूरे 37 साल के बाद पूरे पैसेंजर को लेकर वापस आ गया।

इतना ही नहीं उनमें बैठे सारे यात्रियों के जगह पर उनके कंकाल को देखा गया। आज के इस एपिसोड में ऐसे ही दो घटना के बारे में बताएंगे।

हैरान करने वाली है घटना 1989 की है। कहानी तो तब शुरू होती है जब 14 सितंबर 1954 को पश्चिमी जर्मनी से एक विमान ने उड़ान भरी थी। ब्राजील पहुंचने से पहले यह विमान अटलांटिक महासागर के ऊपर से गुजर रहा था। और अचानक से कंट्रोल रूम से उसका संपर्क टूट गया। और अचानक से यह विमान गायब हो गया। उस समय लोगों को मानना था कि विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया होगा। उसके बाद विमान को खोजने की प्रक्रिया शुरू की गई। खोजबीन के दौरान कुछ भी हाथ नहीं लगा।

12 अक्टूबर 1989 ईस्वी को अचानक से यह विमान दिखाई दिया। किसी को पता नहीं था कि यह विमान आ कहां से रहा है। 37 साल पहले यात्री लोग जिस अवस्था में बैठे थे उसी अवस्था में उनके कंकाल को पाया गया। साथ ही साथ पायलट का भी कंकाल उसी विमान में मौजूद था।

चलिए हम लोग दूसरी कहानी की ओर बढ़ते हैं:-

बिल्कुल ऐसी ही घटना वेनेजुएला की केयरकैस मे देखा गया। बात सन 1984 की है जब एक विमान bc-4 57 लोगों के साथ लैंड करता है। और यह विमान भी बीच रास्ते से कहीं गायब हो जाता है।

पूरे 35 साल बाद या लैंड करता है इसका पूरा पक्का सबूत सरकार के पास मौजूद है। सारे यात्री बिल्कुल सही सलामत थे। उनमे के सारे यात्री बहुत डर हुए थे और पायलट तो बहुत जोर जोर से चिल्ला रहा था, हमारे पास मत आओ।

पायलट में जहाज को दोबारा स्टार्ट किया और न्यूयॉर्क से उड़ाकर ले गया। उड़ान भरने के बाद विमान दोबारा फिर से बादलों में जाकर लापता हो गया।

वैज्ञानिकों का मानना है कि यह तभी संभव है जब कोई टाइम ट्रेवल पर निकला हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *