करेंट लगने की वजह से लड़की के काटने पड़े हाथ और पैर, मंगेतर ने कहा शादी करूंगा तो इसी से करूंगा !

दोस्तों आज मैं दो ऐसे प्रेमी जोड़ो से मिलवाने वाला हूँ जिन्होने इस कहावत को सच कर दिखाया की “प्यार मे बड़ी ताकत होती हैं” जिन्होने इंसानियत का एक मिशाल कायम किया हैं।

अक्सर फिल्मों मे देखा जाता हैं की कितनी भी बड़ी मुसीबत हो लेकिन जब शादी की बात आती हैं तो दोनों परिवार वाले आपस मे संबंध नहीं तोड़ते हैं लेकिन जब लियल लाइफ की बात की जाए तो इसका विपरीत देखने को मिलता हैं। रियल लाइफ मे कुछ भी ऐसी बात हो जो नहीं होनी चाहिए थी तो उसे अशुभ मानकर उस रिश्ते को तोड़ देते हैं। लेकिन इसे पूरी तरह से सच मन लेना सही नहीं होगा क्यूकि आज मैं कुछ ऐसी घटना को प्रकाशित करने वाला हूँ जिसे सुन कर आप भी हिल जाएगे।

दरअसल बात गुजरात के जामनगर जिले की वाड़गमा की रहने वाली 18 वर्षीय हीरल तनसुख की सगाई 28 मार्च को जामनगर के रहने वाले चिराग भाड़ेशिया गज्जर के साथ हुई थी लेकिन इन दोनों की शादी गर्मी की छुट्टियो मे होने वाली थी।

लेकिन विधाता का खेल देखिए दरअसल बात 11 मई की हैं। जब हीरल रोज की तरह कपड़े सुखाने के लिए खिड़की के पास पहुंची और हाथ खिड़की के बाहर निकाला तो उसका हाथ हाईटेंशन तार मे चिपक गया और और उसका दाहिना हट बुरी तरह से जल गया, पैर पानी से गीला होने की वजह से पैरों मे भी करेंट आ गई और दोनों पैर बुरी तरह से झुलस गए।

उन्हे तुरंत निजदीकी के जीजी हॉस्पिटल मे ले जया गया। डॉक्टर की लापरवाही की वज़ह से 4 दिनों तक परिवार वालों को दिलासा देते रहे की वो ठीक हैं और उसके सारे रिपोर्ट नॉर्मल हैं लेकिन 4 दिनों के बाद सारे डोकते ने अपने हाथ खड़े कर दिये और तुरंत उसे अहमदाबाद के सिविल हॉस्पिटल मे रेफर कर दिया गया।

वहाँ पहुँचने के बाद डॉक्टर ने कहा की हीरल का दाहिना हाथ और दोनों पैर के घुटने को काटना पड़ेगा। डॉक्टर ने यह भी कहा की 48 घंटे के अंडर यहाँ ले आते तो शायद ऐसा नहीं होता और हीरल बिल्कुल ठीक हो जाती। हीरल के माता-पिता सोचने लगे की अपनी अपंग बेटी का बोझ कौन उठाएगा, काही इसकी शादी न टूट जाए। चिराग जब होसपिटा पहुंचा तो हीरल के मटा-पिता को परेशान देख कर यह फ़ैसला लिया की वो जब भी शादी करेगा तो वो हीरल से ही करेगा।