Home रोचक तथ्य सोने की ऐसी दीवानगी, 9 किलो से ज्यादा सोना पहनकर घूमते हैं,...

सोने की ऐसी दीवानगी, 9 किलो से ज्यादा सोना पहनकर घूमते हैं, ये सन्यासी

दोस्तो आप तो जानते हैं कि इस दुनिया में दो तरह के अमीर होते हैं। यह ऐसे जो अपने पैसों को बैंक बैलेंस तक ही सीमित रखते हैं। एक दूसरा जो चलते भी हैं तो ऐसा लगता है कि कुबेर चल रहा है। 135 करोड़ के इस आबादी वाले देश में आपको एक से एक अतरंगी चाहिए देखने को मिलेगी।

GOLDEN BABA:- ये संन्यासी एक दो नहीं बल्कि 9 किलो सोना पहनते हैं। गोल्ड के लिए बाबा इतनी ज्यादा शौकीन है कि जब इन्हे कुंभ के लिए जाना पड़ता है तो इन्हे पुलिस की प्रोतेंक्शन लेनी पड़ती है।

हरिद्वार के लिए गोल्डन बाबा कभी एक बिजनेसमैन हुआ करते थे। फिर इन्होंने संन्यास ले लिया। सन्यास लेने के बाद भी सोने का मोह इनके अंदर से नहीं गया। यह अपने शरीर में भगवा के साथ साथ सोना भी लपेटे रखते हैं।

SHANKAR KURHADE:- इन्हे सोना इतना ज्यादा पसंद है कि यह गले से लेकर हाथ और सिर्फ सोने से ही लदे रहते हैं। कोरोनाकाल में जब मास्क पहनना अनिवार्य हो गया तो इन्होंने सोने की मास्क बनवा ली। इस मास्क की कीमत लगभग 3 लाखों रुपए बताई जाती है।

यह पुणा के बिजनेसमैन हैं जितना कमाते हैं उससे ज्यादा का सोना ही खरीद लेते हैं। इन्हें बचपन से ही सोने पहनने का शौक है। यह मास्क उन्होंने तुरंत 10 दिनों के अंदर ही तैयार करवा लिया। शंकर रोजाना 3 किलो सोना पहनते हैं।

PRASHANT:- सोने को लेकर प्रशांत की दीवानगी अलग ही लेवल पर है। इन्हें अपने शरीर पर सोना पहनना बहुत पसंद है। फिलहाल प्रशांत 5 किलो सोना रोजाना पहनते हैं। जिसकी कुल कीमत डेढ़ करोड़ से भी ज्यादा है।

इनके सोने के ज्वेलरी के साथ-साथ मोबाइल कवर भी सोने का ही है। इन्होंने जूते भी सोने के बनवा लिए हैं। प्रशांत को सोने की ज्वेलरी पहनने का शौक कहीं और से नहीं बल्कि बप्पी लहरी को देख कर आया है।

DATTA PHUGE:- इस व्यक्ति को गोल्ड मैन के नाम से जाना जाता है। सोने की ज्वेलरी इन के लिए आम बात है, इन्होंने सोने की शर्ट बनवा ली। यह शर्ट पूरे साढ़े 3 किलो का है।

इस शर्ट की कीमत इस वक्त डेढ़ करोड़ से भी ज्यादा है। इस शर्ट को बनाने के लिए 22 कैरेट सोने का इस्तेमाल किया गया है। 15 कारीगरों ने 20 दिन का वक्त लेकर इस शर्ट को तैयार किया है। इस शर्ट के साथ-साथ इन्होंने एक सोने की बेल्ट भी बनवाई है जो अपने पेंट में लगाकर चलते हैं।