अमेजिंग फ़ैक्ट, वैज्ञानिको का मानना 10 सेकंड तक किस करने के दौरान 8 करोड से भी ज्यादा बैक्टीरिया ट्रांसफर होता हैं

हैलो दोस्तों, गर्मियों के मौसम में स्विमिंग पूल में डुबकी लगाने का मजा तो कुछ और ही होता है। बहुत सारे लोग घंटों भर स्विमिंग पूल के अंदर आराम फरमाते हैं। लेकिन जैसे ही पुल के बाहर आते है तो उनकी आंखें लाल हो जाती है। दोस्तों क्या आपको इसकी वजह मालूम है? अमेरिका में हुए एक रिसर्च के अनुसार मानना है कि यह क्लोरामाइंस के वजह से होती है। यह पुल के अंदर मौजूद क्लोरीन से बनता है। आसान शब्दों में कहें कि जब इंसान का पसीना और पेशाब पुल के पानी से मिलता है तो यह रिएक्ट करता है। जिसके बाद क्लोरामाइंस बनता है।

यानी के यहां आंखों में होने वाली जलन और आंखों को लाल करने की वजह पेशाब ही हैं। आर के एपिसोड में हम आपको स्वास्थ्य से जुड़ी कुछ ऐसे ही नुस्खों के बारे में बताएंगे। तो चलिए शुरू करते हैं:-

केला:- आप अकेला बड़े चाव से खाते होंगे, और अगर डॉक्टर से पूछा जाए तो वह दर्जनों फायदे गिना देते हैं। दोस्तों हम आपको बता दें कि अकेला रेडी एक्टिव होते हैं। साथ ही केला में पोटैशियम भी पाया जाता है। जिसके कारण केले से रेडिएशन निकलते हैं। इसलिए केला खाने से आप डरिए नहीं खूब केला खाइए।

किसिंग:- किसिंग के दौरान एक अनोखी बात निकल कर सामने आई है। वैज्ञानिकों का कहना है कि 2 लोग अगर आपस में 10 सेकंड तक किस करें तो करीब 8 करोड से भी ज्यादा बैक्टीरिया उन दोनों के मुंह में ट्रांसफर हो जाता है। कहने का मतलब है कि दो लोग आकर आपस में किस करते हैं तो ढेरों बैक्टीरिया एक मुंह से दूसरे मुंह में चली जाती है।

किसिंग के दौरान ट्रांसफर होने वाले बैक्टीरिया को आप कीटाणु नहीं समझिए। इनमें से ज्यादातर बैक्टीरिया हमारे शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं। बस कुछ ही बैक्टीरिया ऐसे होते हैं जो एक दूसरे के मुंह में इन्फेक्शन फैला सकते हैं।

रोंगटे खड़े:- रोंगटे खड़े होना हमारे शरीर के एक सामान्य शारीरिक घटना है। जो हमें पूर्वजों से विरासत में मिली है। ठंड में ऐसे ही जानवरों के साथ भी होता है। जानवरों के मोटे मोटे लंबे लंबे बाल खड़े हो जाते हैं। और हवा के मात्रा को छुपा कर रख लेते हैं। बाल का नेचर जितना ज्यादा घना होगा वह उतनी ही गर्माहट को करता है।

हाथ पैर में सिलवटे पड़ना:- जब ज्यादा देर तक पानी में काम करना पड़ता है तो हम लोग देखते हैं कि हमारे हाथ पैर में सिलवटें पड़ जाती है। यह सिलवट्टे ऐसी दिखती है जैसे कि स्किन बूढ़ी हो गई हो। यह पानी से बाहर आने तक कुछ समय तक ही रहती है। वैज्ञानिकों का माने तो यह हमारे शरीर की एक व्यवस्था है।

वैज्ञानिकों के अनुसार हमारे शरीर में स्वतंत्र तंत्र की एक क्रिया काम करती हैं। जो देर तक पानी में रहने से हमारे नसों को सिकुड़ देता है। जिससे त्वचा पर सिलवटें पड़ जाती है। यह जिंदा रहने के लिए हमारे शरीर का जबरदस्त इंतजाम है। पैर में हुए सिलवटें से हम फिसलन से बच जाते हैं। इंसान के अलावा यह सिलवटें बंदरों में भी देखने को मिलती है।

सेव करना:- हम लोग बचपन से सुनते आ रहे हैं कि कम उम्र में सेव नहीं करनी चाहिए। इससे लंबे और घने बाल हो जाएंगे। इसी लालच से लोग बार-बार गंजे होते हैं। लेकिन हम आपको बता दें कि हेयर ग्रो एक जेनेटिक मामला है। सेव कराने से बाल घने और तेजी से नहीं बढ़ते। हालांकि आप नियमित रूप से बालों को कटवा कर स्वस्थ रख सकते हैं।

मानव शरीर:- मानव शरीर कई सारे तत्वों से मिलकर बना है, लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि इसमें एक गोल्ड यानी सोना भी पाया जाता है। लेकिन दोस्तों शरीर में सोने की मात्रा बहुत ही कम होती है। एक 70 किलो के व्यक्ति के शरीर में 0.2 मिलीग्राम सोना पाया जाता है। बहुत दिनों तक रिसर्च करने के बाद वैज्ञानिकों को पता चला कि सोना मानव शरीर में इलेक्ट्रिक पावर को कंट्रोल करने में मददगार साबित होता है।

रोना:- दोस्तों आपसे जानते हैं कि किसी ना किसी को बिना बात की ही रोना आ जाता है। लेकिन रोना एक स्वाभाविक प्रतिक्रिया है। जो मनुष्यों के साथ दुख-सुख और खुशी, हताशा और भावनाओं के होता है। लेकिन दोस्तों एक बात है रोने के बाद हम बेहतर महसूस करते हैं।

कैंसर: दोस्तों क्या आपको पता है कि कैंसर मरीजों के बाल क्यों झड़ जाते हैं? दरअसल दोस्तों कैंसर मरीजों को कई दवाइयों का सेवन करना पड़ता है। दवाई के साथ-साथ उन्हें कई सारे इंजेक्शन भी दिए जाते हैं। दवाई और इंजेक्शन से मरीजों के शरीर में साइड इफेक्ट होता है। इसका सबसे ज्यादा असर बालों पर पड़ता है। और बाल झड़ जाते हैं।