Trending Funny jokesHindi jokesजोक्सUPSCLove jokesJokesमजेदार जोक्सहिंदी जोक्सIPSIASfactMajedar Jokes

1 रुपए का ऐसा नोट आपको बना सकता हैं करोड़पति, देखे अभी

कुछ लोगो को पुराने नोट और सिक्के को जमा करने का शौक होता हैं। अगर आप का भी ऐसा शौक हैं तो आप भी लखपति बन सकते हैं। आपको बता दे की कुछ कारणवश 26 साल पहले भारत सरकार ने एक रुपये के नोट को बंद कर दिया था, लेकिन जनवरी 2015 में इसकी छपाई फिर से शुरू की गई थी, और फिर एक रुपया का नोट नए अवतार मे मार्केट मे आया।

लेकिन आज हम आपको आजादी से भी पहले के एक रुपये के नोट के बारे में बताएंगे, जिसके जरिए आप 7 लाख रुपये तक कमा सकते हैं।

आपको बता दे की ऑनलाइन वेबसाइट पर आप इन नोटों की बोली लगा सकते हैं। जिसमे से एक नोट पर 7 लाख रुपये तक की बोली लग चुकी है। तो चलिये आपको हम इन नोटो की खासियत के बारे मे बताते हैं :-

ये 7 लाख वाले नोट की खासियत यह हैं, की यह आजादी के पहले की एकमात्र नोट हैं। जिस पर उस समय के गवर्नर जे डब्ल्यू केली के साइन हैं। यह 80 साल पुरानी नोट ब्रिटिश इंडिया की ओर से 1935 में जारी किया गया था। ऐसा नहीं की उस साल की हर नोट इतनी महंगी हैं। बल्कि कुछ नोट ऐसे भी हैं जो कम कीमत में भी मिलते हैं।

1966 का एक रुपये का एक नोट 45 रुपये में भी उपलब्ध है। इसी तरह 1957 का एक नोट 57 रुपये में मिल रहा है। ऐसा नहीं की आप सिर्फ एक रुपया के नोट से ही कमा सकते हैं, बल्कि आप नोटो के बंडल को बिक्री कर के भी कमा सकते हैं। आपको बता दे की ईबे पर आप इन बंडल को सेल कर सकते हैं। साल 1949, 1957 और 1964 के 59 नोटों का बंडल के बदले में आप पूरे 34,999 रुपये कमा सकते हैं. वहीं, 1957 का एक रुपये के नोट के बंडल से आप 15 हजार रुपये तक की कमाई कर सकते हैं।

आपको बता दे की साल 1968 का एक रुपये का एक बंडल 5,500 रुपये का है, खास बात यह है कि इसमें एक नोट 786 नंबर का भी है. ज्यादातर नोटों के ऑर्डर की शिपिंग फ्री है, जबकि कुछ में 90 रुपये तक के शिपिंग चार्जेज लग रहा है. भुगतान ऑनलाइन ही करना होगा, कैश ऑन डिलीवरी का ऑप्शन नहीं है।

आपको ये जानकर खुशी होगी की इस समय कई ऐसे वेबसाइट हैं, जहां पुरानी नोटो और सिक्को की खरीद और ब‍िक्री की जा सकती हैं। अगर आपके पास पुराने नोट और स‍िक्‍के तय शर्तों के ह‍िसाब से हैं तो आपको काफी अच्‍छे पैसे म‍िल सकते हैं।

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. GazabFactHindi अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]