माँ का स्थान भगवान के बराबर हैं, एक महिला ने खुद से अपना पेट को चिड़ के बच्चे को दिया जन्म…

हैलो दोस्तों, स्याही खत्म हो गई मां लिखते लिखते। उसके प्यार की दास्तान इतनी लंबी थी। मां जिसमें सारा संसार व्याप्त है। यही है संसार को चलाने वाली और वक्त आने पर संसार से लड़ जाने वाली। अपने हर संतान को बराबर प्यार देने वाली। इंसान के पहले गुरु मां ही होती है। आज हम आपको कुछ ऐसे मां के बारे में बताएंगे, जिन्होंने पूरी दुनिया को हैरान कर दिया। तो चलिए शुरू करते हैं:-

Liz joice:- एक मां जिंदगी भर किसी ना किसी चीज का त्याग करती ही रहती है। लेकिन इस माने तो अपनी जिंदगी ही न्योछावर कर दी। 2010 में लिज जोइस को कैंसर होने का पता चला। जिसके बाद लीज को सर्जरी के साथ-साथ चार बार कीमोथेरेपी करवानी पड़ी। फिर उनका कैंसर ठीक हो गया।

2013 में लीज प्रेग्नेंट हुई। फिर उनकी लाइफ खुशियों से भर गई। एक महीने बाद पता चला कि कैंसर फिर से लौट आया है। अब उनके पास दो ही रास्ता बचा था। एक पहला तो गर्भपात करवा कर फिर से इलाज करवाया जाए या फिर बच्चे को जन्म दिया जाए, और ट्रीटमेंट ना करवाएं। उनके लिए बच्चे को जन्म देना ही सब कुछ था। डॉक्टर बच्चे को जन्म देने के कारण पूरे शरीर को m.r.i. नहीं कर पाए। और कैंसर पूरे शरीर में फैल गया।

जनवरी 2014 को लीज ने एक बच्ची को जन्म दिया। और मार्च में लीज ने आखिरी सांस ली। बच्चे और पति को अकेला छोड़ कर चली गई। जाने से पहले अपनी बच्ची के लिए हर जन्मदिन के लिए एक वीडियो छोड़कर गई। ना होकर भी अपनी बच्ची के साथ हमेशा रही।

Anjela cavallo:- एक व्यक्ति अपने कार को ठीक कर रहा था तो उसी समय कार को ऊपर उठाने वाला टूट गया। 2000 किलो का कार के नीचे दब कर बेहोश हो गया। तभी उस व्यक्ति की मां एंजेला ने उसे देखा और कारनामा किया।

एंजेला ने कार को लगभग 5 मिनट तक ऊपर उठा कर रखा। जिसके बाद पड़ोसी ने उस व्यक्ति को खींचकर बाहर सुरक्षित निकाला। इस कारनामा को साइंटिस्ट ने लैब में दोहराने की कई बार कोशिश की। लेकिन वह लोग ऐसा नहीं कर पाए। आसान शब्दों में बयां करें तो इसका यही निकलता है कि मां के सीमा के बराबर कुछ और नहीं।

Corolina:- एक बार मुजामीन में बहुत भयंकर बाढ़ आई। गर्भवती कैरोलिना का पूरा गांव पानी में डूब गया। पूरा गांव मगरमच्छ से घिर गया। कोई सहायता नहीं मिलने के बाद मगरमच्छ के डर से कैरोलिना पेड़ पर चढ़ गई। अभी तक कोई मदद वहां नहीं पहुंची थी। 4 दिन बाद कैरोलिना ने पेड़ पर ही एक बच्ची को जन्म दिया।

कुछ दिन बाद मिलिट्री का हेलीकॉप्टर वहां पहुंचा। उसके बाद कैरोलिना का वहां रेस्क्यू किया गया। आज उनकी बेटी 18 साल की है और इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही है।

Ramirez Perez:- यह ऐसे ही मां की कहानी है जिस पर विश्वास करना नामुमकिन के बराबर है। रामिरेज ने ममता का मिसाल पेश करते हुए चाकू से पेट फारकर एक बच्चे को जन्म दिया। जब उन्हें लेबर पेन हुआ तो पति गांव से बाहर था। बच्चे का जान बचाने का कोई और रास्ता नहीं दिखा।

रामिरेज ने चाकू उठाया और दो गिलास शराब पीने के बाद खुद का पेट ही चीड़ दिया। होश में रहते हुए खुद ही स्वस्थ बच्चे को बाहर निकाल लिया। बाद में रामिरेज को कई सारी सर्जरी करवाने पड़े। लेकिन उन्हें कोई भी सीरियस इंजरी नहीं हुई। डॉक्टर देखकर हैरान थे कि वह तब भी होश में थी।

You: अगर आप एक मां है और इसे पढ़ रही है तो आप इसकी असली हकदार हैं। मां होना अपने आप में यह दुनिया का सबसे बड़ा साहस, त्याग और बलिदान है। जिसे साबित करने की जरूरत नहीं है। आपको ऐसा कुछ करने की जरूरत नहीं है जिससे की हिस्ट्री बने, और आपको याद किया जा सके। यह काम तो आप हर दिन हर वक्त बिना किसी स्वार्थ के वैसे ही करती हो।

आप ईश्वर के द्वारा दिया गया एक वरदान हो। जिसकी आंचल की छांव में बच्चे अपने आप को सुरक्षित महसूस करते हैं। और अपने सारे गम भूल जाते हैं।