Home रोचक तथ्य मिलिए जेठालाल की दुकान गड़ा इलेक्ट्रॉनिक्स के असली मालिक से …

मिलिए जेठालाल की दुकान गड़ा इलेक्ट्रॉनिक्स के असली मालिक से …

दोस्तों टीवी सीरियल के लोकप्रिय कॉमेडी शो “तारक मेहता का उल्टा चश्मा” किसे देखना पसंद नहीं हैं। यह लंबे समय से दर्शकों का मरोरंजन करावा रहा हैं आज इसका 13 साल बीत चूंका हैं। जानकारी के लिए बता दूँ की यह शो 2008 मे प्रसारित हुआ था और आज लोगों के दिलों मे अपना एक अलग ही पहचान बना लिया हैं। इस शो की खास बात यह हैं की इस शो के सारे किरदार ही नहीं बल्कि पूरा सीन ही बहुत फनी हैं।

“तारक मेहता का उल्टा चश्मा”शो लोगो के इतने करीब हो चूंका हैं की अभी तक कोई भी इसके टक्कर मे नहीं आ पाया हैं। इसमे टप्पू की शरारत, चंपक चाचा का ज्ञान और हमेशा परेशान रहने वाले जेठलाल, ये सब दर्शकों को बहुत पसंद आता हैं। यह इतना फेमस हो चूंका हैं की अभी तक कोई दूसरा शी इस शो की टीआरपी को मत नहीं दे सका हैं। इस शो की हर चीज बहुत ही मशहूर हुई हैं चाहे वो भिड़े मास्टर को नोटिस बोर्ड पर लिखना या फिर जेठलाल की गड़ा इलेक्ट्रोंनिक की दुकान हों।

आप सोच रहे होगे की हम ये सब क्यू बता रहे हैं दरअसल आज मैं आपको इस शो के किसी किरदार के बारे मे नहीं बताने वाला हूँ बल्कि जेठलाल की गड़ा इलेक्ट्रोनिक की दुकान के बारे मे बताने वाला हूँ। यह दुकान पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बन गई है। आज मैं आपको इस दुकान के असली मालिक के बारे मे बताने वाला हूँ। जी हाँ दोस्तों आप सोच रहे होगे की क्या यह दुकान सच मे मौजूद हैं तो हा यह दुकान सच मे मौजूद हैं और इस दुकान के असली मालिक जेठलाल नहीं बल्कि शेखर गडियार हैं।

आप इस बात को अच्छी से जानते हैं की यह शो आम लोगो की दिनचर्या पर आधारित हैं। इसमे गोकुलधाम सोसायटी के सदस्य भी काम करते। इसमें पोपट लाल पत्रकार हैं तो मेहता साहब लेखक हैं। आत्माराम तुक्काराम कोचिंग भी चलाते हैं और सोसायटी के सेक्रेटरी भी हैं। वहीं जेठालाल चंपक इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकान का काम संभालते हैं। इस दुकाम मे शो मे अक्सर ग्रहकों की लंबी लाइन लगी रहती हैं।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि हकीकत में भी इस दुकान पर लोगों की कतार लगी रहती है।शो में आपने देखा होगा कि कैसे जेठालाल रोज तैयार होकर इस दुकान पर पहुंच जाता है। दुकान में 3 कर्मचारी भी मौजूद हैं। नटू काका, बाघा और मदन। इस दुकान को शो के हर एपिसोड में जरूर दिखाया जाता है। इस दुकान असल मे मुंबई के खार मे स्थित हैं। इस दुकान के असली मालिक शेखर गडीयार हैं। इस दुकान का रियल नाम शेखर इलेक्ट्रोनिक था लेकिन शो मे इस का नाम गड़ा इलेक्ट्रोनिक होने के वजह से इसका नाम बदल कर गड़ा इलेक्ट्रॉनिक कर दिया।

दुकान के असली मालिक ने बताया की मैं इस दुकान को शूटिंग पर देने से डरता था की कही कुछ टूट न जाए लेकिन आज तक कुछ भी क्षतिग्रस्त नहीं हुआ हैं। शो के कारण अब ग्राहकों से ज्यादा पर्यटक दुकान पर आते हैं। इस दौरान दुकान पर आने वाले पर्यटक उनके साथ फोटो लेना नहीं भूलते हैं। शो के कारण शेखर की दुकान काफी लिकप्रिय हों गयी हैं। इस वजह से बिजनेस मे भी काफी फायदा हुआ हैं। वो शो के सभी कलाकरो से मिल चुके है। उनका ज्यादतर मिलना जेठालाल, नटुकाका और बाघा के साथ होता है।

नटूकाका के निधन के बाद गडा इलेक्ट्रॉनिक्स के मालिक शेखर गडियार द्वारा नटुकाका को विशेष श्रद्धांजलि दी गई है। गड़ा इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकान में नटुकाका जिस कुर्सी पर बैठे थे, उस पर शेखर गड़ियार की एक तस्वीर लगाई गई है, साथ ही ‘लव यू घनश्याम काका, मिस यू नटूकाका’ कैप्शन लिखा है। वीडियो को शेखर गडियार ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर पोस्ट किया था। जो खूब वायरल भी हो रहा है।