लक्ष्मी अग्रवाल के असली जिंदगी का हुआ खुलासा !

दोस्तों अपने छपाक फिल्म तो देखी ही होगी जिसमे दीपिका पादुकोण ने लक्ष्मी अग्रवाल की भूमिका निभायी हैं। जिसमे दीपिका पर कुछ गुंडो ने उनके फेस पर तेजाब फेक दिया था।

तो चलिए जानते हैं, लक्ष्मी की असली कहानी

लक्ष्मी का जन्म माध्यम वर्गीय परिवार मे दिल्ली मे हुआ था। जब वो 15 साल की थी तो गायक बनना चाहती थी। एक लड़का जो जो की 32 साल का था उसका नाम नदीम खान हैं, वो लक्ष्मी से शादी करना चाहता था और वो हमेशा पीछा करता था। साल 2005 मे लक्ष्मी अपनी पढ़ाई के लिए खान मार्केट से किताब लेने जा रही थी तो नदीम ने उसके फेस पर तेजाब फेक दिया।वो वही दर्द से तड़प रही थी, तो एक टैक्सी ड्राइवर ने नजदीकी सफदरजंग हॉस्पिटल मे भर्ती करवाया। जब से यह फिल्म रिलीज हुई हैं तबसे लक्ष्मी अग्रवाल की जिंदगी मे फिर से सुखिया छा गयी। सभी को लक्ष्मी के बारे मे जानने का इंट्रेस बढ़ गया। लक्ष्मी ने उस लड़के पर केस भी लड़ी और जीत भी गयी।

लक्ष्मी ने अपनी जिंदगी मे फिर से कैसे जीना सीखा

इतना सब कुछ होने के बावजूद भी हिम्मत नहीं हारी। वो लड़ी और फिर से उठ खड़ी हुई। इसी भी लक्ष्मी को एक लड़के आलोक दीक्षित से प्यार हो जाता हैं। आलोक दीक्षित लक्ष्मी जैसी लड़कियों के लिए काम करता हैं। दोनों हमेशा एक दूसरे से मिलते रहते थे, कब दोनों को एक दूसरे से प्रेम हो गया पता ही नहीं चला। दोनों एक साथ लिव इन मे रहने लगे। दोनों करीब चार सालो तक रिलेशनशिप मे रहे। लक्ष्मी ने एक प्यारी से बेटी को जन्म दिया जिसका नाम पीहू रखा। जब उनसे शादी के बारे मे पूछा जाता हैं, तो वह कहती हैं, की वह सिर्फ आलोक के साथ लिव -इन मे रहती थी। जब आलोक को लगाने लगा की आब दोनों को आलग हो जाना चाहिए तो वह लक्ष्मी का साथ छोड़ कर चला गया लेकिन लक्ष्मी अपनी जिंदगी मे अपनी बेटी के साथ खुश हैं। हाँ मगर जिंदगी ने उसे बहुत घाव जिये हैं जिसे जिंदगी भर वो भुला नहीं पाएगी।