Home ब्रेकिंग न्यूज़ इस खिलाड़ी ने गरीबी के हालत मे की चौकीदारी का काम

इस खिलाड़ी ने गरीबी के हालत मे की चौकीदारी का काम

हैलो दोस्तो, आप तो जानते हैं कि आए दिन किसी-न-किसी सफलता की कहानी हमारे सामने आते रहती हैं। जिससे हमे अपने जीवन मे तरक्की पाने का मोटिवेशन मिलता हैं। जैसा की आप सभी लोग जानते हैं कि हामरे भारतीय टिम मे कई सारे महान खिलाड़ी हैं। जिनमे से तो बहुत सारे ऐसे खिलाड़ी हैं जो अपने मेहनत और काबिलियत के दम पर मुकाम हासिल किया हैं। उन्होने अपने काबिलियत से भारत का नाम पूरी दुनियाँ मे रौशन किया हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे महान खिलाड़ी के बराए मे बताने वाले हैं, जिनहोने अपने मेहनत से ऊंचाई के शिखर को छूया हैं। उन्होने अपने संघर्ष से अपने जीवन मे सफलता हासिल की हैं। तो चलिये शुरू करते हैं:-

भुवनेश्वर कुमार:- भुवनेश्वर कुमार को भारतीय क्रिकेट टिम का स्विंग का जादूगर कहा जाता हैं। ऐसा भी कहा जाता हैं कि कभी गरीब पिता का सपना था कि उनका बच्चा भारतीय टिम के लिए क्रिकेट खेले और भारत को इंटरनेशल नेवल पर लेकर जाये। भुवनेश्वर कुमार ने अपने जीवन मे बहुत सारे कठिनाइयो का सामना किया, अपने माता-पिता का सपना अपने मेहनत और लगन से पूरा किया।

महेंद्र सिंह धोनी:- आज धोनी भारत के हर दिल मे बसे हुए हैं। भारतीय क्रिकेट टिम को ऊंचाई पर ले जाने का श्रे धोनी को ही दीया जाता हैं। धोनी के बारे मे बहुत कम लोग जानते हैं, कि वे एक समय मे टीटी का काम किया करते थे। उन्होने बहुत कोशिश की, फिर भी उन्हे भारतीय क्रिकेट टिम मे जगह नहीं मिली थी। उन्होने हिम्मत नहीं हारी, और कोशिश को जारी रखा। आज वे पूरी दुनिया के चहेते बने हुए हैं।

अंजिक्य रहाणे:- मिस्टर क्लासिक के नाम से फेमस रहाणे के ज़िंदगी मे बहुत संघर्ष भरा हुआ था। वे एक गरीब परिवार मे पैदा हुए थे, इसके बावजूद अपने मेहनत के दम पर उन्होने भारतीय टिम मे जगह बनाई। उनका बचपन तो बहुत गरीबी मे गुजारा था। उन्होने बचपन मे क्रिकेटर बनने का सपना देखा था। तमाम कठिनाइयो का सामने करते हुए उन्होने भारतीय टिम मे अपनी जगह बनाई।

रवीद्र जडेजा:- रवीद्र जडेजा भारतीय क्रिकेट टिम मे महत्वपूर्ण ऑलराउंडर हैं। रवीद्र जडेजा गेंदबाजी, बल्लेबाजी और फील्डिंग मे भी माहिर हैं। इनके बारे मे तो ये भी कहा जाता हैं कि इनके घर की स्थिति इतनी खराब थी कि वे कभी पैसो के लिए चौकीदार का काम किया करते थे। अपनी गरीबी के कारण उनके पास खाने के लिए भी पैसे नहीं थे। उन्होने अपनी ज़िंदगी मे संघर्ष करके खुद को एक मुकाम तक पहुंचाया।

जसप्रीत बूमराह:- डेथ ओवर स्पेशलिस्ट के नाम से मशहूर बूमराह ने अपने जीवन मे काफी बुरे दिन देखे हैं। उनके पिता जी के मृत्यु हो जने के बाद वे पूरी तरह से बिखर गए थे, लेकिन उन्होने हिम्मत नहीं हारी, और अपना संघर्ष जराइ रखा। भारतीय टिम के ये सितारे ने दिखा दिया कि मेहनत से हर नामुमकिन को मुमकिन किया जा सकता हैं।

रोहित शर्मा:- कहा जाता हैं, कि रोहित शर्मा को क्रिकेट सीखने के लिए लंबी दूरी पैदल तय करना पड़ता था। गरीबी मे रहते हुए भी उन्होने कभी भी हिम्मत नहीं हारी, और अपने मेहनत पर अपने आप को काबिल बनाया।

उमेश यादव:- उमेश यादव के ज़िंदगी भी कभी कठिनाइयो से भरा रहता था। अपने क्रिकेट के करियर से पहले वे कोयला खदान मे कमा करके अपने घर का खर्च चलाते थे। इनके आम्दानी से ही घर मे खाना बंता था। लेकिन आज वो अपनी गति के दम पर किसी भी बल्लेबाज के छकके छुड़ाने मे पीछे नहीं हटते हैं।