जाने की विदाई के ठीक पहले क्यू टूटी शादी ?

दोस्तों आज मैं आपको कुछ ऐसे शादी के बारे मे बताने वाला हूं जिसे सुन कर आप भी हैरान रह जाएगे। दोस्तों हर लड़की का सपना होता हैं की उसकी शादी किसी अच्छे घर मे हो उसमे शादी को लेकर कई सपने होते हैं, लेकिन क्या आपने कभी सुना हैं की विदाई के पहले ही दुल्हन ने अपनी शादी तोड़ दी हो, अगर नहीं तो चलिये कुछ ऐसे ही घटना के बारे मे चर्चा करते हैं।दोस्तों जब कोई पिता अपनी बेटी की शादी करता हैं तो उसकी शादी मे अपनी जिंदगीभर की कमाई को खर्च कर देता हैं।

बचपन से अपनी बेटी को पालपोष कर बड़ा करके उसे शादी कर के विदा कर देते हैं, लेकिन फिर भी दहेज की मांग कर के लड़के वालों का मुंह बंद नहीं होता। कुछ ऐसे ही घटना शिवानी के साथ हुआ। शिवानी ग्वालियर की रहने वाली हैं उसकी शादी की रात को दहेज मांगा जा रहा था शिवानी को यह देख बर्दाश नहीं हुआ और उसने शादी तोड़ दी।

दरअसल यह घटना मध्य प्रदेश की दतिया जिले की जीवजी क्लब गेट -1 मे ज्वेलर्स द्वारिका प्रसाद अग्रवाल की बेटी शिवानी की शादी फालका बाजार निवासी सुरेश अग्रवाल के बेटे प्रतीक से होनी थी। प्रतीक फालका बाजार मे सेनेट्री की दुकान चलता हैं। दूसरी तरफ शिवानी भी जॉब करती हैं। बताया जा रहा हैं, की शुक्रवार की सुबह बारात आई थी, और शनिवार की सुबह विदाई ही होनी ही थी की लड़के के पिता ने दुल्हन के समान देखने की बात कही इस पर दुल्हन को गुस्सा आया और बारात वापस ले जाने की बात कह दी।

बात इतना बढ़ गया की पुलिस को बुलाया गया। पुलिस दुल्हन को समझने की कोशिश भी की लेकिन दुल्हन नहीं मानी। उसका कहना हैं की मैं अपने मम्मी पापा का ख्याल रखना छाती हूं। वर पक्ष की और से दहेज की मांग कर रहे है जिसे मैं बर्दास नहीं कर सकती। दुल्हन ने बताया की प्रतीक मेरे सैलरी लेने की भी बात कर रहे हैं और दहेज मे कार की मांग की थी।

पुलिस के आ जाने पर दूल्हा ने अपनी और से सफाई देते हुए कहा की लड़की वाले झूठ बोल रहे हैं, हमने दहेज नहीं मांगी हैं। वो कहे तो हम उन्हे ज्यादा पैसे दे देगे। दुल्हन के पिता ने कहा की शादी तय हो जाने के बाद रोज नई-नई मांग करत थे। विदाई के समय बेटी की पेटी देखने पर अड़ गए, इस पर बेटी ने ससुराल जाने से इंकार कार दिया।

source:- socalgyan.in