Home रोचक तथ्य अजब गजब : आखिर क्यू इस कुत्ते को 1 करोड़ का इनाम...

अजब गजब : आखिर क्यू इस कुत्ते को 1 करोड़ का इनाम दिया गया, पढ़िए राज

दोस्तों आज आप मेरे बातो को ध्यान से सुनना आज मैं आपको जिस कुत्ते के बारे में बताने वाला हूं। वो कोई आम कुत्ता नही हैं। इस कुत्ते के बारे में जानकर आप कहेंगे की कुत्ते हो इसकी तरह वरना न हो तो चलिए शुरू करते हैं:–

एक कुत्ता है लेकिन इंसानों से भी ज्यादा वफादार है जहां तक सैनिक नहीं पहुंच पाते हैं वहां तक यह कुत्ता पहुंच जाता है। जब आतंकवादी सैनिक के बहुत से दूर भाग जाते थे तब यह कुत्ता उसे ढूंढ निकालता था। कभी गोलियां तो कभी बम हर चीजों का सामना करते हुए यह कुत्ता दुश्मनों को ढेर कर देता है। और अंत में उसे मिलती है मौत।

यह बात आपको जानकर हैरानी होगी कि भारतीय सेना में जितने भी कुत्ते भर्ती होते हैं रिटायरमेंट के बाद उसे जहर देकर या फिर गोलियों से मार दिया जाता है। यह कहानी है भारतीय सेना में मौजूद हर उस बहादुर कुत्ते की जिसने एक या दो बार नहीं बल्कि सैंकड़ों बार अपने बहादुरी से सैनिकों की जान बचाई है और ना जाने कितने बार आतंकवादियों को मौत के घाट उतारा है।

Rex:–यह बात है साल 1995 की जब आतंकवादी और आर्मी के बीच भयंकर मुठभेड़ चल रही थी। यह खबर पता चलती है कि उन आतंकवादियों को सैनिक की गोली तो लगी है लेकिन वह भागने में कामयाब हो गया। भारतीय सैनिक उन आतंकवादियों को नहीं ढूंढ पाई फिर रेक्स नाम के जवान कुत्ते को बुलाया गया या कुत्ता ना सब बहादुर था बल्कि अपने जवानों के लिए अपनी जान भी कुर्बान कर सकता था। कुछ घंटे के भीतर ही उस आतंकवादियों को रेक्स नाम के कुत्ते ने ढूंढ निकाला। साल 1998 में रेक्स जब एक आतंकवादी का पीछा कर रहा था तब आतंकवादी के गोली लगने की वजह से उसकी मौत हो गई।

Alex:–यह कुत्ता भूटान के राजा की जान बचाई थी। यह कहानी है साल 1965 की जब भूटान के राजा भारत के दौरे पर आए हुए थे कहा जाता है कि जब वह भारत दौरे पर आए थे तब उन पर आतंकवादी हमला होने वाला था। इस बात की भनक एलेक्स नाम के कुत्ते को पहले ही लग चुकी थी। जिसके बाद यह कुत्ता तेज रफ्तार से दौड़ना शुरू कर दिया और जंगल में कई मिल दूर दौड़ने के बाद मंदिर में जाकर रुक गया आपको जानकर हैरानी होगी कि मुझे मंदिर के पीछे पाकिस्तानी आतंकवादी छुपे हुए थे।

Rock:–यह कहानी है साल 1990 की जब भारतीय सैनिक के पास रॉक नाम का एक कुत्ता मौजूद था। कहा जाता है कि भारतीय सैनिक के पास इससे अच्छा कुत्ता था ही नहीं। उस वक्त भारतीय सैनिकों को घुसपैठ की खबर मिली उस कुत्ते को भी इस काम पर लगा दिया गया। सिर्फ आपने सूंघने की क्षमता से वह कुत्ता लगातार 4 किलोमीटर तक दौड़ता रहा और जिस जगह पर रुका उस जगह से चार विदेशी आतंकवादी पकड़े गए। कहा जाता है कि मिशन के दौरान रॉक के पैर में गोली लग गई थी गोली लगने की वजह से उसके पैर खराब हो गया और वह कभी चल नहीं पाया। जिसके बाद उसे जहर देकर मार दिया गया।

Manshi:–यह घटना साल 2015 की है जब एक बहुत बड़ी आतंकवादी घटना होने वाली थी। उस वक्त यह कुत्ता जम्मू-कश्मीर में तैनात था। कहा जाता है कि जैसे ही उस कुत्ते को नेगेटिव घटना का पता चला वो अपने मालिक बस अहमदको जोर-जोर से खींचने लगा बसीर अहमद तुरंत समझ गया कि कुछ ना कुछ गड़बड़ है। मानसी जिस दिशा में भाग रहा था उस दिशा में कुछ आतंकवादी थे। वैसे आतंकवादी को पता चला तो तुरंत आंतकवादी ने गोलियां चलानी शुरू कर दी और दोनों की मौत हो गई।

यह घटना ब्रिटेन की है जब एक आदमी कुत्ते को चलाने के लिए एक ब्रिज पर निकला था और गलती से नदी में गिर गया। अपने मालिक को डूबते देख वह कुत्ता जोर-जोर से भागने लगा। आस पास कोई नहीं था जिससे उसके मालिक को बचा पाए बिना देर किए वह कुत्ता ब्रिज के किनारे भागता हैं और नदी में छलांग लगा देता है। नदी में डूबने से पहले ही वह कुत्ता अपने मालिक को नदी से बाहर ले आता है।

Disclaimer- इस एपिषोड की सामाग्री शोध पर आधारित हैं, और वेब, लेखो और समाचार पात्रो पर अध्ययन किया गया हैं। हम यह दावा नहीं देते हैं कि हमने जो जानकारी एकत्रित की हैं वह 100 प्रतिशत सटीक हैं। हमारी सामाग्री सिर्फ मनोरंजन के उद्धेश्य से हैं। हमारा इरादा किसी को चोट पहुंचाने का नहीं हैं।