Home अजब गजब शादी का मंडप छोड़ इंटरव्यू देने पहुंची दुल्हन, शिक्षक के पद पर...

शादी का मंडप छोड़ इंटरव्यू देने पहुंची दुल्हन, शिक्षक के पद पर हुई नियुक्ति !

दोस्तो, आज हम आपको एक ऐसी अनोखी कहानी के बारे मे बताने जा रहे हैं, जो सुनने मे थोड़ी अजीब लगती हैं। लेकिन यह बिलकुल सच हैं। आज हम आपको सक्सेज़ स्टोरी के बारे मे बताने जा रहे हैं।

दरअसल दोस्तो, यह कहानी उत्तर प्रदेश की हैं। जहां एक तरफ लड़की के हाथो मे मेहँदी लगी थी, और दूसरी तरफ मंडप मे दूल्हा उसका इंतजार कर रहा था। सच मे घटना सुनने मे थोड़ी अजीब जरूर लगती हैं, लेकिन यह बिलकुल सच हैं। आइये जानते हैं, पूरा मामला:-

दुल्हन पहुंची काउन्सलिन्ग मे,

दोस्तो, आपने यह कहानी तो सुनी ही होगी कि हौसलों की उड़ान अगर ऊंची होती हैं तो हर मुसकिल पार हो जाती हैं। उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले की रहने वाली प्रज्ञा तिवारी ने इस कहावत को सच कर दिया हैं। जो अपने शादी के तुरंत बाद काउन्सलिन्ग मे पहुंची।

शिक्षक भर्ती के लिए महिला अभ्यार्थी

दरअसल दोस्तो उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले मे शिक्षक भर्ती के लिए BSA ऑफिस मे महिला अभियार्थियों के लिए काउन्सलिन्ग चल रही थी। जिसमे प्रज्ञा का नाम भी शामिल था। लेकिन अगली सुबह मे उसकी शादी की विदाई होने वाली थी। ऐसे भर प्रज्ञा ने रात भर दूल्हे के साथ शादी रचाई और अगले सुबह ही ससुराल जाने के बजाय BSA ऑफिस पहुँचती हैं।

ऑफिस अधिकारी भी हैरान हो गए

प्रज्ञा के हाथो मे मेहँदी और मांग मे सिंदूर देखकर वहाँ के अधिकारी भी दाङ रह गए। बालों में मोगरे का गजरा लगाए प्रज्ञा ने काउंसलिंग अटेंड की, जिसके परिणामस्वरूप उन्हें नौकरी मिल गई। इधर दूल्हा सुबह मे घर जाने के लिए दुल्हन का इंतजार कर रहा था।

शिक्षक के पद पर नियुक्त हुई प्रज्ञा

वैसे तो प्रज्ञा के अंदर आत्मविश्वास का भंडार हैं। वहाँ पर प्रज्ञा से इंटरव्यू भी लिए गए। सभी सवालो का जबाव देते हुए प्रज्ञा को शिक्षक के पद पर नियुक्त किया गया। वहाँ के अधिकारी प्रज्ञा को बधाई देते हुए कहते हैं, कि कल शादी हुई और आज नौकरी लग गयी।

बेटियो को बेहतर शिक्षा देने की जरूरत

प्रज्ञा लोगो से कहती हैं, कि सभी माता पिता अपने अपने बिटियो को पढ़ाये। ताकि लडकीयाँ अपने पैरो पर खड़ा हो, और उसका आत्मविश्वास बढ़े।

source:-awesomegyan.com