Home रोचक तथ्य 58 घंटे तक Kiss करने का रिकॉर्ड, थाईलैंड के एक कपल के...

58 घंटे तक Kiss करने का रिकॉर्ड, थाईलैंड के एक कपल के नाम हैं…

हैलो दोस्तों, अपने घोड़ा गाड़ी के बारे में तो सुना ही होगा, लेकिन क्या बकरी गाड़ी के बारे में सुना है? एक आदमी जो 100 करोड़ का लॉटरी जीता और कुछ साल बाद ही खाने के लाले पड़ गए। एक बाज ने जितनी लंबी उड़ान भरी उसके बारे में जानकर आप हैरान रह जाओगे। एक ऐसा पेशेंट जिसका ऑपरेशन छेनी से करना पड़ा। आज के एपिसोड में हम आपको कुछ ऐसे ही फैक्ट के बारे में बताएं मैं जिससे आपके होश उड़ जाएंगे। तो चलिए शुरू करते हैं:-

अन्ना और लूसी को विश्व में जुड़वा बहन के नाम से जाना जाता है। यह दोनों बहने बचपन से ही एक दूसरे के साथ सब कुछ शेयर करते आ रही है। ऐसे में इन दोनों ने फैसला किया कि अब वह बॉयफ्रेंड को भी एक दूसरे से शेयर करेगी। इन दोनों को फेसबुक पर एक लड़का मिला जिसका नाम Ben Byrne है। अब यह तीनों एक-दूसरे के साथ ही रहते हैं। तीनों का रोमांस एक साथ एक बेडरूम में ही होता है।

Private life से वर्ल्ड रिकॉर्ड किस करने का भी है। यह वर्ल्ड रिकॉर्ड थाईलैंड के एक कपल को मिला है। इन दोनों ने वर्ष 2013 में वैलेंटाइन डे के दिन किस करना शुरू किया, जो अगले 3 दिन तक कंटिन्यू रहा है। इन दोनों को अगर बाथरूम में जाने की भी जरूरत पडी तो दोनों एक दूसरे को किस करते हुए ही गए।

बहुत सारे लोग ऐसे होते हैं जो ड्राइविंग करते वक्त जबड़ा क्रॉसिंग पर ना तो रुकते हैं और ना ही स्पीड कम करते हैं। इस सबको देखते हुए थाईलैंड के सरकार ने जेबरा क्रॉसिंग को 3डी का निर्माण किया। जिसे देखकर ऐसा लगता है कि वाइट लाइन हवा में मौजूद कोई ऑब्जेक्ट है। जिस पर लोग जेबरा क्रॉसिंग पर ब्रेक लगाने पर मजबूर हो जाएंगे।

दोस्तों क्या कभी आपने ऐसा ऑपरेशन का नाम सुना है जहां पर डॉक्टर के बजाय कोई मैकेनिक हो और मैकेनिक के हाथ में छेनी और कटर मशीन हो। यह अनोखा ऑपरेशन झारखंड के धनबाद में हुआ है। एक 37 साल के व्यक्ति के प्राइवेट पार्ट में लोहे का एक बाइंरिग फस गया। उसे कुछ मजा चाहिए था लेकिन उनका मजा सजा में बदल गया। प्राइवेट पार्ट में वायरिंग फसने के बाद उसे हॉस्पिटल ले जाना पड़ा।

डॉक्टर के पास ऐसा कोई भी हथियार नहीं था जिससे यह वायरिंग को निकाला जा सके। डॉक्टर ने मैकेनिक को बुलाया। कटर मशीन के मदद से मैकेनिक ने डेढ़ घंटे तक ऑपरेशन किया। फिर उस व्यक्ति के प्राइवेट पार्ट से लोहे के वायरिंग काटने में कामयाब रहा।

बाज एक माइग्रेटिंग पक्षी है जो मौसम के अनुसार एक जगह से दूसरी जगह पलायन करते रहते हैं। अमेरिका में फीमेल बाज के बॉडी में एक सेटेलाइट सिस्टम को लगा दिया गया। मात्र 42 दिन बाद कुछ ऐसा देखने को मिला जैसे देखकर हर कोई हैरान रह गया। यह फीमेल बाद मात्र 42 दिन के अंदर ही 10000 सेंटीमीटर उड़ान भरते हुए फिनलैंड पहुंच गई थी।

एक और अनोखी बात यह है कि इसने अपना सफर सीधी लाइन में ही तय किया था।

आप आप जानते हैं कि आज के समय में कस्टमर कंप्लेंट बहुत कॉमन है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि दुनिया के सबसे पुराने इतिहास में रिटन कंप्लेन कब की गई थी। दुनिया के सबसे पुराना कंप्लेन जो मौजूद है वह आज से 3800 साल पुराना है। यह कंप्लेन मिट्टी के एक टेबलेट पर लिखी गई है। जिसमें एक व्यक्ति ने खराब कॉपर देने के लिए शिकायत की थी।

अमेरिका से एक अजीबोगरीब कंप्लेंट सामने आया है। एक व्यक्ति ने अपने पत्नी के ऊपर कंप्लेन इसलिए कर दिया क्योंकि वह अपनी पत्नी के जूतों से उलझ कर नीचे गिर गया था। जूतों से उलझ कार गिरने के बाद वह सीधा सीढ़ी के नीचे गिर गया। जिस कारण उसकी कई सारी हड्डियां भी टूट गई थी। इस हादसे से वह इतना गुस्सा हुआ कि अपनी पत्नी के ऊपर ही केस कर दिया।

दोस्तों बैलगाड़ी और घोड़ा गाड़ी के बारे में तो आपने सुना ही होगा। लेकिन क्या कभी आपने बकरी गाड़ी के बारे में सुना है। बीसवीं सदी के शुरुआत में यूरोप और अमेरिका में बकरी गाड़ी चलाई जाती थी। घोड़ा गाड़ी की तरह है बकरी के पीछे छोटा सा कार्ट बना होता था। जिसे बकरी खींचा करती थी।

19 वर्ष के युवक को 99 करोड़ की लॉटरी लगी थी। मात्र 19 साल की उम्र में ही है लड़का अरबपति बन गया था। वो भी किसी मेहनत के। इसने अपने सारे पैसे ड्रग्स जुआ और शराब पीने में उड़ा दिए। वर्ष 2010 आते-आते इसके सारे पैसे खत्म हो गए। उसके सामने भुखमरी की नौबत आ गई। लॉटरी जीतने से पहले यह व्यक्ति कूड़ा उठाने का काम करता था।

करोड़पति से रोडपति बनने के बाद फिर से उसे रोड पर से कचरा उठाने वाले काम करनी पड़े।

दोस्त आप जानते हैं कि अलार्म से सभी की सुबह होती हैं। हर दिन की नींद अलार्म से भी नहीं खुलती उनकी नींद मम्मी की डांट से खुलती है। लेकिन जिस समय अलार्म की घड़ी नहीं हुआ करते थे वह लोग किसी और चीज की मदद लेकर सुबह की नींद खोलते थे।

दोस्तों चावल को खाने से पहले हम लोग अलग अलग तरीके से पकाते हैं। लेकिन आपको हैरानी होगी कि हमारे भारत में एक चावल की ऐसी किसमें पाई जाती है जिसे खाने से पहले पकाने की जरूरत नहीं पड़ती। चावल के इस किस्म को हम लोग बोका कहते हैं। चावल को खाने से पहले थोड़ा सा पानी में भिगोना पड़ता है जिसके बाद यह चावल खाने लायक बन जाती है।