जोक्स

Majedar जोक्स : एक पठान के शादी हुई, अगले दिन उसके दोस्त ने पूछा..

जोक्स नंबर 01: “जज- तुम पर आरोप है की तुमने अपनी सास को तीसरी मंजिल की खिडकी से नीचे सडक पर फेंक दिया |
क्या तुम बताओगे कि तुमने ऍसा क्यों किया ?
अभियुक्त- श्रीमान मै उनसे तंग आ गया था | औए कोई विशेष बात नही थी |
जज – लेकिन सडक पर तो हजारो लोग जाते रहते है ?
अभियुक़्त- लेकिन साहब हो जल्दी हो गया |
जज – परन्तु तुमे खिडकी से नीचे देखकर फेंक देते ? ताकी किसी रास्ते चलते राहगीर पर ना गिरे ? किसी आदमी पर वह गिर जाती तो उस की क्या दशा होती |”

जोक्स नंबर 02: “पागलखाना अस्पताल में एक लडकी से पूछा गया बेटी तुम कौ सी कक्षा में पढती हो ?
लडकी -उस ने कहा -नइन ओ क्लॉक |”

जोक्स नंबर 03: “चोर -हुजुर मुझे रिहा कर दीजिए |
जज -क्यों क्या यह तुमारी पहली चोरी है ?
चोर -जी नहीं , मै तो अक्सर चोरी करता हुं ,और हमेशा जे,ल आता रहता हुं | परन्तु यह मेरे वकील का पहला मुक,दमा है |”

जोक्स नंबर 04: “ग्राहक -जनाब , आपके हाथी दांत के गहने तो सारे बनावटी निकले |
दुकानदार- हुजुर , गहने तो असली थे लगता है कि उस हाथी ने दांत नकली लगाये होंगे |”

जोक्स नंबर 05: “नीलू- तुम्हारी बेटी की सगाई हुए पूरे दो वर्ष हो चुके है | विवाह में इतनी देर क्यों कर रही हो ?
संगीता -दरअसल लड्का वकील है | ज्यों ही विवाह की तारीख आती है |वह कोई बहाना बनाकर आगे की तारीख
मांग लेता है |”

जोक्स नंबर 06: “रोगी- आपका यह मरीज ठीक हो चला डॉक्टर साहब फिर आप इस कदर परेशान क्यों है ?
डॉक्टर -मुझे यह मालुम नही पड रहा है कि यह किस दवाई से ठीक हुआ है |”

जोक्स नंबर 07: “एक निहायत काले आदमी ने एक काला सूट सिलवाया | जब उसने पहली बार वो सूट पहना तो अपने दोस्तसे पूछा कैसा लग रहा है मेरा नया सूट ? लग तो बढिया रहा है -दोस्त-बोला-लेकिन , यार ये पता नहीं चलता कि सूट कहा खत्म हुआ है और तुम कहा से शुरू हुए हो”