जोक्स

Majedar Jokes : पति का किसी के साथ अफेयर चल रहा था..

Hindi Jokes : आजकल के स्ट्रेस भरे जीवन में हँसना मुस्कुराना तो सभी भूल सा ही गए हैं. अगर आप जीवन में हमेशा स्वस्थ रहना चाहते हैं तो उसका सबसे अच्छा उपाय हैं आप हमेशा हस्ते रह. लाइफ में इतना काम हैं की इंसान हसना भूल गया हैं और वक़्त भी नहीं मिल पाता. हमें आपके स्वस्थ की बहुत चिंता हैं इसलिए आपको हँसाने के लिए हम हमेशा मजेदार फनी जोक्स लाते रहते हैं, तो चलिए शुरू करते हैं मजेदार जोक्स पढना..

Jokes नंबर 1 : एक बालक जिद पर अड़ गया …. बोला की छिपकली खाऊंगा।घरवालों ने बहुत समझाया पर नहीं माना। हार कर उसके गुरु जी को बुलाया गया। वे जिद तुड़वाने में महारथी थे।गुरु के आदेश पर एक छिपकली पकड़वाई गई. उसे प्लेट में परोस बालक के सामने रख गुरु बोले, ले खा… बालक मचल गया। बोला, तली हुई खाऊंगा। गुरु ने छिपकली तलवाई और दहाड़े, ले अब चुपचाप खा. बालक फिर गुलाटी मार गया और बोला, आधी खाऊंगा।छिपकली के दो टुकड़े किये गये। बालक गुरु से बोला, “पहले आप खाओ”।गुरु ने आंख नाक और भी ना जाने क्या क्या भींच किसी तरह आधी छिपकली निगली गुरु के छिपकली निगलते ही बालक दहाड़ मार कर रोने लगा और बोला,” आप तो वो टुकड़ा खा गये जो मैंने खाना था।गुरु ने धोती सम्भाली और वहां से भाग निकले कि अब जरा भी यहां रुका तो ये दुष्ट दूसरा टुकड़ा भी खिला कर मानेगा।

Jokes नंबर 2 : दो बच्चे बातें कर रहे थेचुन्नू – बहुत बडे संगीतज्ञ हैं मेरे पिताजी , वे जब सितार बजाते हैं , तब सैकडों आदमी पत्थर की तरह बैठे रह जाते हैं !मुन्नू बोला- मेरे पिताजी के बजाने में और ही बात है ,हजारों आदमी काम छोडकर चलने लगते हैं !चुन्नू – अच्छा वह क्या बजाते हैं ?मुन्नू – छुट्टी के समय मिल का भोंपू !

Jokes नंबर 3 : चुन्नू आराम से बैठा था !मुन्नू (चुन्नू से) : कुछ काम करो !चुन्नू : मैं गर्मियों में कुछ काम नहीं करता हूं !मुन्नू : और सर्दियों में क्या काम करते हो ?चुन्नू : गर्मियां आने का इंतजार !

Jokes नंबर 4 : को-र्ट में केस चल रहा था, केस की सुनवाई शुरू होने लगी तो वकी-ल उठा और ज-ज से बोला।वकील: “माई लार्ड, कानून की किताब के पेज नंबर 15 के मुताबिक मेरे मुवक्किल को बा-इज्जत बरी किया जाये।ज-ज: “किताब पेश की जाये।”किताब पेश की गयी, जज ने पेज नंबर 15 खोला तो उसमें 1000 के 10 नोट थे।ज-ज मुस्कुराते हुए बोला: “बहुत खूब, इस तरह के 2 सबूत और पेश किये जाये।”

Jokes नंबर 5 : ज-ज : अच्छा तो बताओ इस व्यक्ति ने तुमे कैसी गालियां दी !आदमी : ज-ज साहब , वह सब गालिया शरीफों के सामने बताने योग्य नही है !वकी-ल : अच्छा तो हम सब यहा से चले जाते है,तुम ज-ज साहब को अकेले सुना दो !

अनुरोध : जोक्स पसंद आया हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरुर भेजे, ताकि वो भी जोक्स पढ़कर हंस सके.