जोक्स

हिंदी मजेदार जोक्स : लड़की : अगर मैं मर जाऊ तो तुमक्या करोगे? लड़का…

जोक्स नंबर 1: बगुले की टांग!एक बार एक शिका-री अपने नौकर के साथ शिकार पर गया। वहाँ उन्होंने पानी में एक जंग-ली बगुला देखा।नौकर एक दम से चिल्लाया, “मारिये साहब, वो एक टाँग वाला बगुला है, उड़ नहीं पायेगा।”शि-कारी ने मुस्कुराते हुए हुश किया और बगुले ने अपनी दूसरी टाँग निकाली और उड़ने लगा।शिका-री ने तुरंत उसे गो-ली मार दी।जब नौकर ने शाम को बगुले को पकाया तो उसका मन हुआ कि उसका स्वाद चख लिया जाये।उसे इतना स्वादिष्ट लगा कि वो पूरी टाँग खा गया।खाने के वक़्त शिका-री ने देखा कि बगुले की एक टाँग गायब है।लेकिन खाने के समय मूड ना बिगड़े इसलिए शिका-री ने चुप-चाप खाना खा लिया।खाना खत्म करने के बाद शिकारी ने अपने नौकर से पूछा कि तुमने जो बगुला पकाया था, उसकी एक टाँग गायब थी।नौकर ने झट से उत्तर दिया, “नहीं साहब, अगर आप सुबह की तरह हुश करते तो वो अपनी दूसरी टाँग भी निकाल लेता!”

जोक्स नंबर 2: लड़की : अगर मैं मर जाऊ तो तुमक्या करोगे?…लड़का : मैं भी मर जाऊँगा….लड़की : पर क्यू?….लड़का : तेरे चक्कर मे उधारी इतनी हो गई है कि अब जीना मुश्किल है।

जोक्स नंबर 3: एक दिन जीतो बहोत सारी चॉकलेट खा रहा था।एक आदमी ने देखा तो उससे रहा नहीं गया और वह जीतो को सलाह देने लगा।आदमी: बेटा इतनी ज्यादा चॉकलेट नहीं खाते, सेहत के लिए ठीक नहीं होती।जीतो: एक बात बोलूं मेरे दादा जी 105 साल के हैं।आदमी: अच्छा! क्या वो भी बहुत सारी चॉकलेट खाते हैं?जीतो : नहीं।आदमी: तो, फिर?जीतो : वो अपने काम से काम रखते हैं..!

जोक्स नंबर 4: एक पहलवान बस में चढ़ा।कंडक्टर: भाई साहब, टिकट!पहलवान: हम टिकट नहीं लेते।कंडक्टर ने पहलवान की तरफ देखा पर चाहकर भी कुछ न बोल सका।ऐसे पहलवान हर रोज चढ़ता, पर टिकट न लेता और यही बात कंडक्टर के दिल पर लग गई।ऐसे ही 6 महीने बीत गए और अब कंडक्टर ने भी पहलवान की तरह अपनी बॉडी बना ली।अब पहलवान चढ़ा, तो कंडक्टर बोला: टिकट।पहलवान: हम टिकट नहीं लेते।कंडक्टर (छाती चौड़ी करके): क्यों नहीं लेते?पहलवान: क्योंकि हमने पास बनवा रखा है।

जोक्स नंबर 5: बेटा: पिता जी, युद्ध कैसे शुरू होते है?पिता: मान लो कि अमेरिका और इंग्लैंड में किसी बात पर मतभेद हो गया।माँ: लेकिन अमेरिका और इंग्लैंड में मतभेद हो ही नहीं सकता।पिता: अरे, भई मैं तो केवल एक उदाहरण दे रहा था।माँ: मगर तुम बच्चे को गलत उदाहरण देकर बहका रहे हो।पिता: नहीं, मैं बहका नहीं रहा हूँ।माँ: जरुर बहका रहे हो।पिता: बकवास बंद करो। एक बार कह दिया ना, नहीं बहका रहा हूँ।माँ: मैं क्यों चुप रहूं, तुम्हारी कोई धींगा-मुश्ती है?बेटा: आप लोग झगड़ा बंद करिए, मैं समझ गया कि युद्ध कैसे होते हैं।

जोक्स नंबर 6: एक आदमी ने साधू से कहा, मेरी बीवी बहुत परेशांन करती है, कोई उपायए बताएं……. साधू बोला : साले उपाए होता तो मै साधू क्यों बनता?

जोक्स नंबर 7: डॉक्टर: तबियत कैसी है ? मरीज़: पहले से ज्यादा ख़राब है…डॉक्टर: दवाई खा ली थी? मरीज़: खाली नहीं थी भरी हुई थी…डॉक्टर: मेरा मतलब है दवाई ले ली थी ? मरीज़: जी आप ही से तो ली थी…डाक्टर: बेवक़ूफ़ !! दवाई पी ली थी? मरीज़: नहीं जी दवाई नीली थी…डॉक्टर: अबे गधे !! दवाई को पी लिया था? मरीज़: नहीं जी पीलिया तो मुझे था…डॉक्टर: उल्लू के पट्ठे !! दवाई को खोल के मुँह में रख लिया था? मरीज़: नहीं आप ही ने तो कहा था कि फ्रिज में रखना…..डॉक्टर: अबे क्या मार खायेगा? मरीज़: नहीं दवाई खाऊंगा…डॉक्टर: निकल साले, तू पागल कर देगा… मरीज़: जा रहा हूँ, फिर कब आऊँ?डॉक्टर: क़यामत के बाद… मरीज़: क़यामत के कितने दिन बाद?डॉक्टर बेहोश…..