जोक्स

मजेदार जोक्स: राहगीर – तुम भीख क्यो मांगते है यह बुरा काम है, भिखारी – क्या आपने भीख मांगी है ?राहगीर – नहीं, भिखारी –

जोक्स नंबर 01. डॉक्टर – आपके तीन दांत कैसे टूट गए ?मरीज – पत्नी ने कड़क रोटी बनाई थी.डॉक्टर – तो खाने से इनकार कर देते !मरीज – जी, वही तो किया था … !!!

जोक्स नंबर 02. नेताजी – चिल्ला -चिल्ला कर कह रहे थे -हर आदमी को हर चीज मिलनी चाहिए | जो चीज तुम्हें अच्छी लगे ,ले लो | यदि तुम्हें भूख लगे तो खाने की दूकान लूट लो | यदि ठण्ड लगे तो दुकान का सबसे अच्छा सिला कोट उठा लो…. भाषण देने के बाद वे मंच से नीचे उतरे और चिल्लाए -अरे मेरी साइकिल कौन उठा ले गया ?

जोक्स नंबर 03. एक प्रसिद्ध कहानीकार से संवाददाता ने पूछा -आपका दिन किस प्रकार गुजरता है | सुबह छः बजे उठाता हुं और नहा धोकर टहलने निकल जाता हुं | फिर आकर नाश्ता करके अखबार पढता हुं | औ थोडा समय बच्चों के साथ घूमने निकल जाता हुं |और आकर सो जाता हुं | यह जो आपकी इतनी सारी कहानियां है जो …इन्हें आप किस समय लिखते हो ……संवाददाता ने पू्छा | कहानीकार ने बडे इत्मीनान से उत्तर दिया – वो में अगले दिन लिखता हुं |

जोक्स नंबर 04. Wife: इतने लेट कैसे ?Husband: वो क्या होगया ना की एक आदमीकी १००० रुपये की नोट गूम हो गयी थी |Wife: अच्छा … तो तुम क्या उसे धुंड ने में मदद कर रहे थे ?Husband: नहीं … मै उस नोट पे खड़ा था |

जोक्स नंबर 05. चिंटू आराम से बैठा था।मींटू (चिंटू से)- कुछ काम करो।चिंटू (मींटू से)- मैं गर्मियों में काम नहीं करता हूं।मींटू- और सर्दियों में?चिंटू- गर्मियां आने का इंतजार!

जोक्स नंबर 06. राहगीर – तुम भीख क्यो मांगते है | यह बुरा काम है | भिखारी – क्या आपने भीख मांगी है ?राहगीर – नहीं | भिखारी – फिर यह बतइये कि आपको कैसे मालुम हुआ कि यह बुरा काम है |

जोक्स नंबर 07. जहीर -भाई मुझे याद नहीं आता कि तुमसे कब मैने बीस रुपय उधार लिये थे ? जहीर -अच्छा वह! मगर वह तो मैने वापस कर दिये थे | हनीफ – कब ? जहीर – जब तुम नशे में थे