Home सेलेब्रिटी जानें क्यूँ, बिना तलाक के ही अपने पत्नी से अलग रहते हैं...

जानें क्यूँ, बिना तलाक के ही अपने पत्नी से अलग रहते हैं नाना पाटेकर, ये हैं कारण

नमस्कार दोस्तों, आप सभी तो नाना पाटेकर को तो अच्छी तरह जानते होंगे। बॉलीवुड के जाने माने एक्टर नाना पाटेकर को आज कौन नहीं जानता। आपको बता दें की नाना पाटेकर आज 70 साल के हो चुके हैं। आपको आज जानकारी होनी चाहिए की उनका जन्म 1 जनवरी 1951 को महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में हुआ था। उन्होने अपने करियर की शुरुआत 1978 में आई फिल्म ‘गमन’ से की थी। और उस फिल्म से ये बॉलीवुड में फेमस हो गए थे। आपको जानकारी होनी चाहिए की उनकी पत्नी का नाम नीलकांति है और इनके बारे में बहुत कम लोगो को ही जानकारी होगी की शादीशुदा होते हुए भी नाना पाटेकर पत्नी नीलकांति से अलग रहते हैं। यहां तक कि उन्होंने पत्नी को तलाक भी नहीं दिया है। लेकिन आप जरूर सोच रहे होंगे की वो तलाक न होने के बावजूद भी अलग क्यू रहते हैं। तो दोस्तों, आइए जानते हैं:-

दरअसल, मीडिया रिपोर्टर के अनुसार पता चला है की नाना का अफेयर जब मनीषा कोइराला से चल रहा था, तो यह बात उनकी पत्नी नीलकांति को पता चली। हालांकि आपको बता दें की नाना ये सब आबतों, से इंकार करते है और उसे मानने को राजी नहीं होते हैं। .एक इंटरव्यू में नाना पाटेकर ने बताया था- हम आज भी अक्सर मिलते हैं और एक-दूसरे का ख्याल रखते हैं। लेकिन सही बात आज कोई नहीं जानता।

आपको ये भी जानकारी होनी चाहिए की नाना पाटेकर ने थिएटर आर्टिस्ट नीलू उर्फ नीलकांति से शादी के दौरान सिर्फ 750 रुपए खर्च किए थे। अपनी शादी का ये किस्सा खुद नाना ने सुनाया है। एक इंटरव्यू में उन्होने ये सब बाते बताई है।

इनहोने अपनी शादी को लेकर कुछ बातें बताई हैं जो चलिये जानते हैं। नाना के मुताबिक, “मैंने सोचा था कि शादी तो करनी नहीं। इसलिए थिएटर ज्वाइन कर लेते हैं। जब मैं कुछ पैसे कमा लूंगा और कोई लड़की मुझसे शादी करने को तैयार हो जाएगी, तब देखूंगा। बाद में मैंने नीलू से शादी की, जिससे मेरी पहली मुलाकात थिएटर में हुई थी। वह बहुत अच्छी एक्ट्रेस रही है और लिखती भी अच्छा है। उन्होने आगे बताते हुए कहा की नीलू एक बैंक में ऑफिसर थी और 2500 रुपए महीना कमाती थी। उस वक्त मुझे एक शो के 50 रुपए मिल जाते थे। अगर मैं महीने में 15 शो कर लेता था तो मेरी कमाई 750 रुपए हो जाती थी। यानी कि मेरी और नीलू की कमाई मिलाकर 3250 रुपए महीना होती थी, जो हमारी जरूरतों से कहीं ज्यादा थी। उनकी ये सोच सबको काफी अच्छी लगी।

उन्होने निलू के बारे में बताया की नीलू सिनेमा से दूर रहीं। वे कहते हैं, “उसकी इकलौती फिल्म ‘आत्मविश्वास’ थी, जिसे सचिन पिलगांवकर ने डाइरैक्ट किया था। इस फिल्म के लिए उसे बेस्ट एक्ट्रेस का अवॉर्ड भी मिला था। बढ़ती उम्र के साथ नीलू का वजन बढ़ गया और वो फिल्मों से दूर हो गई। नाना यह भी कहते हैं कि उन्होंने नीलू को वजन कम करने की सलाह भी दी थी।

आपको ये बता दें की नाना पाटेकर का एक बेटा है, जिसका नाम मल्हार है। हालांकि, मल्हार से पहले उनके बड़े बेटे का जन्म हुआ था, जिसकी मौत कुछ समय बाद हो गई थी। एक इंटरव्यू में नाना ने बताया था- 27 साल की उम्र में मेरी शादी हुई। जब 28 का हुआ तो पिता को खो दिया और इसके ढाई साल बाद मेरा बड़ा बेटा दुनिया को अलविदा कह गया। जन्म से ही उसका होंठ कटा हुआ था। इसके साथ ही कुछ और दिक्कतें भी उसके साथ थीं। जो की नाना को काफी दर्दनाक साबित हुई।

बड़े बेटे की मौत के बाद नाना पाटेकर बिल्कुल टूट से गए थे। वो किसी से ज्यादा बात भी नहीं करते थे। लेकिन आपको बता दूँ की हालांकि कुछ वक्त बाद जब नाना पाटेकर का दूसरा बेटा मल्हार पैदा हुआ तो उनकी जिंदगी में खुशियां लौट आई। नाना का बेटा मल्हार एक्टिंग में अपना करियर बनाना चाहता था। प्रकाश झा अपनी फिल्म से मल्हार को लॉन्च करने वाले थे, लेकिन नाना पाटेकर के साथ प्रकाश झा के मनमुटाव के चलते ऐसा नहीं हो पाया। नाना ने मल्हार को प्रकाश झा के साथ काम करने से साफ मना कर दिया था। हालांकि बाद में मल्हार डायरेक्टर काम करने लगे। और आज उनकी जिंदगी में खुशहली लौट आई।