Home जोक्स हिंदी मजेदार जोक्स : बुढ़िया और भिखारी..

हिंदी मजेदार जोक्स : बुढ़िया और भिखारी..

जोक्स नंबर 01: प्रबंधक ने उम्मीदवार से कहा – देखों ! हमें ऐसा चौकीदार चाहिए जो तंदुरुस्त हो , चालाक और चौकना हो , जरुरत पडने पर धमकी भी दे सके | यदि तुममें ऐसे गुण हैं तो तुम्हें यह नौकरी मिल जाएगी अन्यता नहीं |उम्मीदवार बोला – साहब ! ये गुण मुझमें तो नहीं है , लेकिन मेरी बीवी में ये सभी गुण है | मै उसे अभी बुलाता हूं |

जोक्स नंबर 02: एक नौकर ने घबराए हुए लहजे में अपनी मालकिन से कहा – मालकिन गजब हो गया | अभी-अभी एक आदमी ने मालिक को एक कागज और पैकेट लाकर दिया ,उसेदेखते ही मालिक बेहोस हो गए और अभी तक होश में नहीं आए |मालकिन ने खुश होते हुए कहा- अच्छा , मालूम होता है , जौहरी हार बनाकर दे गया है , जिसका ऑर्डर मैंने पिछले हफ्ते दिया था |

जोक्स नंबर 03: पत्नी ने अपने पति से कहा – प्यारे ! मैं तुम्हें छोडकर जा रही हूं | मेरी तुमसे बस एक ही प्रार्थना है | अगर तुम दूसरी शादी करो तो तुम अपनी नई दुल्हन को मेरे कपडे पहनने के लिए न देना |पति ने प्रेम भरे स्वर में कहा- मैं तुम्हारी इच्छा का आसर करूंगा और वैसे भी तुम्हारे कपडे कविता के ठीक भी तो नहीं आएंगे |

जोक्स नंबर 04: भिखारी- कुछ पैसे दे दो , मां जी ! बुढिया -लो यह एक रुपया ले लो | भिखारी -एक रुपया लेकर जाने लगा | बुढिया – सुनों भीख तो तुम्हें मिल गई अब थोडा आशीर्वाद तो दे दो | भिखारी -कार में तो बैठी हो , अब क्या आसमान में बैठना चाहती हो?झ

जोक्स नंबर 05: मंत्री जी की शादी होने वाली थी | उन्होंने अपने पी. ए. को बुलाकर कहा- मेरे एक महिने के सारे कार्यक्रम रद्द्द कर दो | अगले दिन मंत्री जी ने -अपने पी. ए को बुलाकर पूछा -कार्यक्रम रद्द्द करने में कोई परेशानी तो नहीं हुई | पी.ए. -कोई खास नही -बस एक महिला एक घंटे समझाती रही कि रविवार को उससे आपका विवाह होने वाला है

जोक्स नंबर 06: एक व्यक्ति ने एक फौजी अधिकारी को दावत पर बुलाया | वह दो मुर्गे खा गया | उसके बाद एक बूढा मुर्गा आंगन में देखकर वह बोला – देखो , यह मुर्गा किस शान से लडकडा रहा है | मेजबान – ( ने चिडकर कहा ) शान क्यों न हों ? इस के दो बेटे एक फौजी अधिकारी की सेवा जो कर चुके है |

जोक्स नंबर 07: पत्नी – मैने तुमसे सिर्फ इसलिय शादी की कि तुम पर मुझे तरस आ गया , क्योंकि तुमसे तब कोई बात भी नहीं करता था |पति – हा , प्रिय , मगर अब सभी मुझ पर तरस खाते हैं |