अजब गजबफैक्ट

कोयला फिल्म की हीरोइन आजकल कहाँ हैं, और क्या कर रही हैं? जानिए विस्तार से

हैलो दोस्तों, आपने कोयला फिल्म की हीरोइन को तो जरूर देखा होगा। लेकिन क्या आपको पता है कि वह आजकल कहां है? दोस्तों क्या आप जानते हैं कि मार्केट में कैसे ड्रेस आई है जो किसी भी महिला के आंखों को धोखा देकर आकर्षित बना सकती है। या फिर आप यह जानते हैं कि किस देश के सरकार ने अपने नागरिकों से यह कह दिया कि चाइना के फोन को जमीन पर पटक कर फोड़ दो।

नंबर 01: कोयला फिल्म में दिखने वाली दीपशिखा नागपाल को आप सभी ने देखा ही होगा। आज हम आपको दीपशिखा नागपाल के बारे में कुछ ऐसे फैक्ट बताएंगे, शायद आपने पहले कभी नहीं सुना होगा।

दीपशिखा नागपाल फिल्मी फैमिली से ताल्लुक रखती है। कॉलेज के दिनों में उन्होंने एक मॉडलिंग असाइनमेंट पर काम किया था। इसके बाद से दीपशिखा छोटे-छोटे एक्टिंग और मॉडलिंग करने लगी। जिससे उन्हें थोड़ा पॉकेट मनी मिल जाता था।

दीपशिखा ने देवानंद की फिल्म गैंगस्टर से बॉलीवुड में डेब्यू किया। उनकी फिल्में तो फ्लॉप रही। जिसके बाद उन्हें कई और फिल्मों का ऑफर मिला लेकिन उन्होंने ठुकरा दिया। जिसे वह अपनी लाइफ की सबसे बड़ी गलती कहती है।

जिसके बाद उन्हें टीवी सीरियल से पहचान मिली। उन्होंने पॉजिटिव और नेगेटिव दोनों तरह के रोल को अदा की है।

दीपशिखा ने दो शादियां के लेकिन दोनों शादियां में से कोई सा भी आगे नहीं चल पाई। फिलहाल दीपशिखा अपने दो बच्चों के साथ मुंबई में रह रही है। साथ ही कुछ टीवी सीरियल्स में भी काम कर रही है।

नंबर 02: ज्यादातर महिलाओं को अपने पेट से ज्यादा प्रॉब्लम होती है। ड्रेस पहनने से ही ज्यादा प्रॉब्लम होती है। लेकिन मार्केट में कैसे-कैसे उपलब्ध है इसे पहनने पर कितनी भी कोई मोटी महिला क्यों ना हो उसमें वह स्लिम हीं लगेगी।

इस ड्रेस का नाम है माइंड ऑफ माय मैक्सी ड्रेस। इसे नोवा के एक कंपनी ने डिजाइन किया है। इस ड्रेस को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि इसे पहनते हैं कमर काफी पतली दिखने लगती है।

नंबर 03. हमने आज तक आपको कई सारी मछलियों के बारे में बताया है। आज शाम आपको दुनिया की सबसे बदसूरत और डरावनी मछली से मिलवा आएंगे। इस मछली का नाम है टेलिस्कोप फिस। यह मछली गहरे ट्रॉपिकल और सब ट्रॉपिकल पानी में रहती है।

इस मछली का चेहरा काफी डरावना होता है, और इसकी ट्यूब जैसी आंखों की वजह से इसका नाम टेलीस्कोप पड़ा है। आपको बता दें कि यह मछली अंडर वाटर ग्लो भी करती है। ताकि छोटी मछली से जलता हुआ देखें और इसकी तरफ आकर्षित हो, ताकि है उन्हें अपना शिकार बना ले।

नंबर 04. आज के टाइम में जासूसी को बेहद ही आसान कर दिया है। आज से लगभग बहुत साल पहले जब अमेरिका और मास्को के बीच कोल्ड वार चल रही थी तो जासूसी काफी खतरे से भरा काम होता था। जो भी व्यक्ति अमेरिका से मास्को जासूसी करने जाता था तो अपने साथ साइनाइट लेकर जाता था। ताकि वह अगर पकड़ा जाए तो टॉर्चर होने के बजाय और खुद को मार ले।

साइनाइट के गोलियों को चश्मे के फ्रेम में या फिर कलम के कैंप में छुपा कर ले जाया करता था। जैसे ही कोई जासूस पकड़ा जाता था तो वह चश्मे कोई अपन को मुंह में लेकर साइनाइट खा लेता था।

नंबर 05. नार्वे की सरकार अपनी जनता को काफी ध्यान रखती है। सबसे बड़ा उदाहरण है वहां का दिया जाने वाला बेरोजगारी भत्ता। अगर नौकरी में किसी की नौकरी चली जाती है तो नॉर्वे की सरकार उसे बेरोजगारी भत्ता देती है। जिससे उस व्यक्ति के अकाउंट में हर महीने कुछ पैसे आते हैं, ताकि वह अपना गुजर-बसर कर सके। यह पैसा उन्हें तब तक मिलता है जब तक कि वह कोई नई जॉब ना ढूंढ ले।

नंबर 06. दूरदर्शन पर आने वाली महाभारत तो आप सभी लोगों ने देखी होगी। लेकिन आज हम आपको महाभारत से जुड़े एक ऐसे फैक्ट के बारे में बताएंगे जिसे आपने शायद ही सुना होगा। महाभारत की स्क्रिप्ट और उसके डायलॉग को लिखने वाला कोई हिंदू नहीं बल्कि एक मुस्लिम व्यक्ति था। जिसका नाम था राही मासूम राजा।

उत्तर प्रदेश में जन्मे राही मासूम राजा पैसे से यह कवि और एक लेखक थे। वह ज्यादातर उर्दू भाषाओं में अपना लेख लिखा करते थे। महाभारत के स्क्रैप को लिखने के लिए राही मासूम राजा ने कई सारे ग्रंथ को पढ़ा था।

नंबर 07. बहुत सारे लोग चाइनीस फोन का इस्तेमाल करते होंगे। लेकिन दोस्तों क्या आप जानते हैं कि एक देश के राजा ने अपने नागरिकों को चाइनीस फोन को उठा कर फेंक देने की बात कही है।

हम बात कर रहे हैं यूरोपियन देश लिथोनिया की। किसी कारण से चाइना ने लिथोनिय से अपने सारे लिंक काट दिए। लिंग काटने के बाद लिथोनिया ने चाइनीस फोन को फेंक देने के लिए अपने नागरिकों से कहा। और किसके साथ ही कहा कि चाइनीस फोन उनके देश के डाटा चोरी कर रहे हैं।

Disclaimer- इस एपिषोड की सामाग्री शोध पर आधारित हैं, और वेब, लेखो और समाचार पात्रो पर अध्ययन किया गया हैं। हम यह दावा नहीं देते हैं कि हमने जो जानकारी एकत्रित की हैं वह 100 प्रतिशत सटीक हैं। हमारी सामाग्री सिर्फ मनोरंजन के उद्धेश्य से हैं। हमारा इरादा किसी को चोट पहुंचाने का नहीं हैं।