एजुकेशन

UPSC EXAM पास करने के बाद कैसे तय की जाती हैं रैंक, जाने किसे क्या दी जाती हैं जिम्मेदारी

दोस्तों आज मैं आपको UPSC EXAM पास करने के बाद किसे कौन सी जिम्मेदारी दी जाती हैं और उनकी क्या भूमिका होती हैं और वे क्या काम करते हैं। उसके बारे मे बताने वाला हूँ।

भारत का सबसे कठिन परीक्षा :- दोस्तों आपको तो पता ही होगा की भारत का सबसे कठिन परीक्षा UPSC EXAM को माना जाता हैं। हर साल देश मे लाखों लोग इस परीक्षा को लेते हैं लेकिन ऐसे छात्र पास करते हैं जो की अपनी परीक्षा की तैयारी अच्छी तरह से की हो।

EXAM पास करने के बाद :- लेकी क्या आपको पता हैं की एक्जाम पास करने के बाद IAS, IPS और IFS अधिकारिओ का चयन किया जाता हैं और उनके रैंक निर्धारित होते हैं हाँ लेकिन इन पदों के अधिकारिओ की क्या भूमिका होती हैं और वो क्या काम करते हैं।

कुल 24 सर्विसेज :- आपको बात दे की UPSC मे कुल 24 सर्वसेज होते हैं। इन्हे दो कैटेगरी मे बांटा गया हैं। पहला हैं ऑल इंडिया सर्विसेज और दूसरा हैं सेंट्रल सर्विसेज।

ऑल इंडिया सर्विसेज के तहत :- ऑल इंडिया सर्विसेज के तहत भारतीय पुलिस सेवा और भारतीय प्रशासनिक सेवा को रखा गया हैं।

सेंट्रल सर्विसेज के तहत :- सेंट्रल सर्विसेज के तहत ग्रुप ए और ग्रुप बी को रख गया हैं। ग्रुप ए ते तहत भारतीय विदेश सेवा, इंडियन सिविल एकाउंट्स सर्विस, इंडियन रेवेन्यू सर्विस और भारतीय सेवा को रखा गया हैं। ग्रुप बी के तहत आर्म्ड फोर्सेज हेडक्वार्टर्स सिविल सर्विस, , दिल्ली एंड अंडमान निकोबार आइलैंड सिविल, पुडुचेरी सिविल सर्विस और पुलिस सर्विस जैसी सर्विस शामिल किया गया हैं।

UPSC प्रिलिम्स EXAM :- इस एकसां का न्यूनतम योग्यता `ग्रेजुएशन होता हैं। इस EXAM मे 2-2 घंटे का दों पेपर होता हैं। इस EXAM को पास करने के लिए 33 प्रतिशत नंबर लाना जरूरी हैं।

उसके बाद मेंस EXAM :- इस EXAM मे भी दों पेपर होते हैं और 3 घंटे का समय दिया जाता हैं। इस EXAM को भी पास करने के लिए 33 प्रतिशत अंक लाना होता हैं।

कैसे होती हैं पोस्ट तय :- और लास्ट मे इंटरव्यू होता हैं। इंटरव्यू मे मिले नंबर के आघार पर मेरिट लिस्ट तैयार किया जाता हैं। इसी के अनीसर ऑल इंडिया रैंकिंग तय किया जाता हैं। रैंक के आधार पर ही पोस्टिंग दी जाती हैं। टॉप रैक वालों को IAS, निचले रैंक वालों को IAS का पोस्ट दिया जाता हैं। उसके बाद वाले रैंकों को IPS या IFS का पोस्ट दिया जाता हैं।

IAS अधिकारी :- IAS अधिकारी विभिन्न मंत्रालयों मे काम करते हैं। ये देश के नौकरशाही मे काम करते हैं। कैबिनेट सचिव एक IAS अधिकारी के लिए सबसे वरिष्ठ पद होता है। . हालांकि इससे पहले चयनित उम्मीदवारों को ट्रेनिंग दी जाती है।

IPS अधिकारी ;- ये अधिकारी कानून व्यवस्था को बनाए रखने का काम करते हैं। इन्हे प्रमोशन भी दिया जाता हैं। इन्हे भी बड़ी ट्रेनिग से जिया जाता हैं।

IFS अधिकारी :- यह विदेश मंत्रालय मे कार्य करती हैं। इनकी 3 साल की ट्रानिंग होती हैं। आईएफ़एस अधिकारी डिप्लोमेसी से जुड़े मामलों में काम करते हैं और द्विपक्षीय मामलों को हैंडल करते हैं।