Home ट्रेंडिंग भारत के इस स्टार क्रिकेटर के 29 साल में हुई थी मौत,...

भारत के इस स्टार क्रिकेटर के 29 साल में हुई थी मौत, आखिर क्या हैं रहस्य..

भारत के स्टार क्रिकेटर का 29 साल की उम्र में निधन, कैसे हुई थी बल्लेबाज की मौत? आईपीएल 2021 का फाइनल मैच शुक्रवार शाम चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच खेला गया जिसमें चेन्नई ने कोलकाता को 27 रन से हराकर चौथी बार आईपीएल का खिताब अपने नाम किया।

चेन्नई ने जीत से लाखों फैंस को खुश किया, हालांकि आज सुबह क्रिकेट जगत से एक बेहद बुरी खबर आई। महज 29 साल की छोटी सी उम्र में एक मशहूर क्रिकेटर ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया।

हम जिस क्रिकेटर की बात कर रहे हैं उसका नाम अवि बरोट है। दुर्भाग्य से अवि अब हमारे बीच नहीं है। उन्होंने दिल का दौरा पड़ने की वजह से इस दुनिया को अलविदा कह दिया। अवि महज 29 साल के थे और इस उम्र में उनके आकस्मिक निधन से हर कोई सदमे में है। उन्होंने सौराष्ट्र के लिए खेला और भारतीय अंडर -19 क्रिकेट टीम की कप्तानी भी की।

सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन ने अवि के निधन की पुष्टि की है। सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन ने कहा कि अवि बरोट का महज 29 साल की उम्र में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। बता दें, अवि एक बेहतरीन बल्लेबाज थे। उसी वर्ष उन्होंने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में अपने शानदार शतक के साथ प्रसिद्धि प्राप्त की। गोवा के खिलाफ, उन्होंने स्थानीय क्रिकेट में 53 गेंदों में 122 रन बनाए।

एससीए अध्यक्ष ने जताया दुख : सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष जयदेव शाह ने अवि बरोट के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि यह बहुत ही चौंकाने वाली और दुखद खबर है। बरोट एक बेहतर टीम के साथी थे जिनके पास अद्भुत क्रिकेटिंग कौशल था। हाल के सभी घरेलू मैचों में बरोट का प्रदर्शन शानदार रहा। वह एक अच्छे इंसान और दोस्त थे। सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन से जुड़ा हर कोई उनके आकस्मिक निधन से गहरा दुखी है।

उन्होंने गेंदबाजी भी की और विकेटकीपर थे : अवि सौराष्ट्र की विजेता टीम का सदस्य था जिसने 2019-20 में रणजी ट्रॉफी जीती थी। उनके निधन से क्रिकेट जगत स्तब्ध है। वह एक महान बल्लेबाज के साथ-साथ एक गेंदबाज भी थे। मैं आपको बता दूं – यह बहुत अच्छा दिन था। इसके अलावा अवि विकेटकीपिंग के भी प्रभारी थे।

अवि के क्रिकेट करियर पर एक नजर डालते हुए उन्होंने 38 प्रथम श्रेणी मैच खेले। इस दौरान उन्होंने कुल 1547 रन बनाए। उन्होंने 38 लिस्ट ए मैच भी खेले। सूची ने मैचों में अवि के बल्ले से शतक नहीं बनाया, हालांकि उन्होंने कुल 1030 रन और कुल 8 अर्द्धशतक बनाए। 20 घरेलू मैचों में अवि ने 416 के स्ट्राइक रेट से 717 रन बनाए। इस दौरान उनके बेटे ने 5 हाफ सेंचुरी और एक सेंचुरी लगाई।

इसमें कोई शक नहीं कि अवि एक प्रतिभाशाली खिलाड़ी थे। वह 2015-16 और 2018-19 में रणजी ट्रॉफी फाइनल में खेलने वाली सौराष्ट्र टीम का हिस्सा थे। सालों पहले उनके शानदार प्रदर्शन के लिए बीसीसीआई ने उन्हें अंडर-19 क्रिकेटर ऑफ द ईयर के खिताब से भी नवाजा था।